लखनऊ: देश में 17 मई के बाद लॉकडाउन 4.0 का कार्यकाल शुरू हो जाएगा. हालांकि इसके बारे में अभी विस्तृत जानकारी सरकार की तरफ से नहीं दी गई है कि इस नए लॉकडाउन में क्या बदलाव किए जाएंगे. इन सबके बीच प्रवासी मजदूरों का पलायन उकने गृह राज्यों की तरफ लगातार जारी है. इसी बीच प्रवासी मजदूरों को हादसों में कई जगहों पर मौत की खबरें सामने आ चुकी हैं. पहले औरंगबाद, फिर कानपुर और अब यूपी के मुज्जफरनगर में सड़क हादसा देखने को मिला. यहां सड़क हादसे में 6 प्रवासी मजदूरों की मौत हो गई है. Also Read - 1 जून से ट्रेनों में टीटीई ड्रेस में नहीं आएंगे नजर, नई गाइडलाइंस को रेल यात्री भी जरूर जान लें

दरअसल बिहार के रहने वाले कुछ प्रवासी मजदूर मुज्जफरनगर-सहारनपुर हाइवे के जरिए पैदल बिहार की तरफ जा रहे हैं. इस दौरान घलौली चेकपोस्ट के पास एक तेज रफ्तार बस की चपेट में आने के कारण 6 लोगों की मौत हो गई और 2 लोग घायल हो गए. पुलिस इस मामले में अज्ञात बस ड्राइवर के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच में जुट चुकी है. Also Read - Lockdown 5.0: फिर हो जाएं तैयार, बढ़ने जा रहा लॉकडाउन, जानें इस बार कितने दिनों के लिए होंगी पाबंदियां

हालांकि यह पहली बार नहीं है जब किसी दुर्घटना में प्रवासी मजदूर की मौत हुई है. इससे पहले महाराष्ट्र के औरंगाबाद में मध्य प्रदेश की ओर जा रहे 15 प्रवासी मजदूरों की ट्रेन की चपेट में आने के कारण मौत हो गई. वहीं कानपुर देहात जिले में मंगलवार-बुधवार की रात एक तेज रफ्तार मिनी ट्रक सड़क किनारे खड़े ट्रक से टकरा गया था. इस हादसे में मिनी ट्रक में सवार एक महिला और एक बच्चे की मौत हो गई. मिनी ट्रक में सवार अन्य 60 प्रवासी मजदूर घायल हो गए. ये लोग गुजरात से अपने घर लौट रहे थे. यह हादसा अकबरपुर कोतवाली क्षेत्र में हुआ था.