Lockdown in UP latest News: देशभर में अब कोरोना ने अपना भयावह रूप दिखाना शुरू कर दिया. संक्रमण तेजी से पूरे देश में फैल रहा है. कोरोना वायरस के तेजी से आ रहे मामलो के कारण अब राज्य सरकारें चिंता में आ गई है जिसके चलते कई राज्यों में एक बार फिर से लॉकडाउन को लागू किया गया है. कोरोना के बढ़ते मामलो के चलते यूपी सरकार ने कल रात से पूरे प्रदेश में 55 घंटे के लिए लाकडाउन लगा दिया. यह लाकडाउन 13 तारीख की सुबह तक लागू रहेगा. Also Read - Maharashtra Covid-19 Update: महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के 12,248 नए मामले, 390 लोगों की मौत

कल रात से लागू लॉकडाउन के दौरान राज्य में अब पूरी तरह से सभी दकानें और दफ्तर बंद रहेंगे, लेकिन जरूरी सेवाओं पर किसी तरह की रोक नहीं लगाई है. सरकार ने जानकारी दी कि लॉकडाउन के दौरान सबसे ज्यादा सेनेटाइजेशन के काम पर ध्यान दिया जाएगा ताकि संक्रमण के फैलाव को रोका जा सके. Also Read - फिलहाल बंद रहेंगे स्कूल, अभिभावकों की ली जाएगी राय; शिक्षा मंत्री बोले- गृह मंत्रालय की गाइडलाइंस के अनुसार निर्णय लेंगे

लॉकडाउन के दौरान प्रदेश के सभी धार्मिक स्थल पूरी तरह से खुले रहेंगे, किसी धार्मिक जगह पर लॉकडाउन की कोई पाबंदी लागू नहीं होगी. लॉकडाउन के दौरान अब सरकार नियमों को तोड़ने वालों से ज्यादा हर्जाना वसूलेगी. बिना मास्क पहन कर घर से निकलने पर सर 500 रुपये देने होंगे. Also Read - Covid Center Fire Incident: आग लगने से 10 कोरोना मरीजों की मौत, सरकार ने 50-50 लाख मुआवजे का किया ऐलान

अब जब एक बार फिर लॉकडाउन लागू हो गया है तो अब जूरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों के लिए पास आवश्यक होगा. लॉकडाउन में आने जाने की इजाजत उन्हीं लोगों को होगी जिनके पास वैलिड पास होगा. सरकार ने लॉकडाउन के दौरान रेलवे पर किसी तरह का प्रतिबंध नहीं लगाया है. जो लोग ट्रेन से दूसरे शहरों से आएंगे सरकार ने उनके लिए बसों का इंतजाम भी किया है.

सरकार ने बताया कि ठुलाई का काम करने वाले मालवाह गाड़ियों की आवाजाही पर किसी तरह की रोक नहीं होगी लेकिन पास होना जरूरी है. हाईवे किनारे के पेट्रोल पंप भी सामान्य रूप से चालू रहेंगे.

लॉकडाउन के दौरान हवाई यात्रा से आने जाने वालों पर किसी तरह का कोई प्रतिबंध नही होगा. सरकार यात्रियों के लिए बसों का इंतजाम करवाएगी.

ग्रामीण क्षेत्रों में स्थित कारखाने चालू रहेंगे लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना सभी के लिए जरूरी होगा.

आपको बता दें कि देशभर में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. शुक्रवार को एक दिन में सर्वाधिक 26 हजार से अधिक मामले सामने आए. सरकार लगातार कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए कारगर कदम उठा रही है. जिन शहरों में संक्रमण के मामले ज्यादा है वहां सरकार ने बड़े पैमाने पर सेनेटाइजेशन के काम के लिए निर्देश दिए हैं.