लखनऊ: लॉकडाउन के कारण कई लोग अपने घरों से दूर कई शहरों में फंसे हुए हैं. इसमें सबसे ज्यादा दिक्कतों का सामना मजदूर वर्ग के लोगों को करना पड़ रहा है. इससे जुड़ा एक मामला यूपी के श्रावस्ती जिले में देखने को मिला. यहां एक शख्स मुंबई से 1600 किलोमीटर की पैदल दूरी कर श्रावस्ती जिला स्थित अपने घर मल्हीपुर क्षेत्र के मठखनवा गांव पहुंच गया. लेकिन यहां पहुंचने के बाद कुछ ऐसा हुआ कि शख्स की 6 घंटे के भीतर ही मौत भी हो गई. Also Read - Covid-19 Update in India: देश में 24 घंटे में रिकॉर्ड 8,380 केस सामने आए, मृतकों की संख्या 5 हजार के पार

दरअसल मृतक मुंबई से चलकर अपने श्रावस्ती स्थित अपने गांव पहुंच गया. यहां जब प्रशासन को इस बात की भनक लगी तो युवक को 14 दिनों के लिए क्वारंटीन कर दिया गया. क्वांरटीन होने के बाद उसे गांव की ही एक स्कूल में रोका गया जिसके बाद उसकी मौत 6 घंटे के भीतर ही हो गई. बता दें कि यह पूरी घटना सोमवार की है जब युवक अपने घर मुंबई से पैदल चलकर पहुंचा था. Also Read - 54 जिलों से हैं 50% प्रवासी, 44 यूपी-बिहार के ही, PM मोदी का वाराणसी, योगी का गोरखपुर, अखिलेश का इटावा लिस्ट में

इस घटना की खबर जैसे ही स्वास्थ्य विभाग हुई फौरन शख्स के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम व अन्य जांचों के लिए भेज दिया गया है. बता दें कि मृतक के संपर्क में आए उसके परिवार के सदस्यों व अन्य को भी क्वारंटीन कर दिया गया है. इस बाबत श्रावस्ती के सीएमओ पी. भार्गव का कहना है कि क्वारंटीन में रखे गए युवक की मौत किस कारण हुई अभी इस बात की कोई स्पष्ट जानकारी नीं है. रिपोर्ट आ जाने के बाद ही मौत की सही जानकारी का पता चल सकेगा. Also Read - नोएडा में टिड्डी दल से बचाव के लिए बनी कमेटी, डीएम ने किसानों को दी सलाह