लखनऊ: समाजवादी सेक्‍युलर मोर्चा के संयोजक शिवपाल सिंह यादव ने महागठबंधन में शामिल होने की मंशा जताई है. शिवपाल का कहना है कि अगर हमें गठबंधन में शामिल किया जाएगा तो हम विचार करेंगे. साथ ही कहा कि जनता का राजनीतिक दलों से भरोसा उठ रहा है. इसलिए हमने सेक्युलर मोर्चा बनाया है. जितने भी लोगों को सम्मान नहीं मिला है वह और समान विचारधारा वाले दल सभी से सेक्युलर मोर्चा संपर्क में है. Also Read - यूपी: लखनऊ में राजनाथ सिंह की गुमशुदी के पोस्टर लगाए, सपा के 2 कार्यकर्ता अरेस्ट

Also Read - 54 जिलों से हैं 50% प्रवासी, 44 यूपी-बिहार के ही, PM मोदी का वाराणसी, योगी का गोरखपुर, अखिलेश का इटावा लिस्ट में

बता दें कि समाजवादी सेक्‍युलर मोर्चा के संयोजक शिवपाल सिंह यादव ने महाष्टमी के मौके पर परिवार और समर्थकों के साथ अपने नए सरकारी आवास 6 लाल बहादुर शास्त्री में गृह प्रवेश किया. प्रवेश से पहले नए बंगले में पूजा-पाठ की गई. शिवपाल अपने इस बंगले का इस्तेमाल पार्टी दफ्तर के तौर पर करेंगे. गृह प्रवेश के बाद पत्रकारों से बातचीत में शिवपाल ने कहा कि आज हमने पूजा पाठ करके नए आवास में प्रवेश किया है और आज से पार्टी काम शुरू हो जाएगा. इसी बंगले से बैठकर हम काम करेंगे और यहीं पर हम लोगों से मिलेंगे. उन्होंने कहा कि हमारा मोर्चा जनविरोधी सरकारों के खिलाफ काम करेगा. Also Read - यूपी: क्या फिर से अखिलेश के साथ आएंगे शिवपाल सिंह यादव, सपा के वरिष्ठ नेता ने दिया ये बड़ा संकेत

अष्‍टमी की पूजा कर मायावती के पुराने बंगले में रहने गए शिवपाल यादव

बंगला आवंटित कर किसी ने मुझ पर एहसान नहीं किया

उन्होंने कहा कि जनता का राजनीतिक दलों से भरोसा उठा है. इसलिए हमने सेक्युलर मोर्चा बनाया है. जितने भी लोगों को सम्मान नहीं मिला है वह और समान विचारधारा वाले दल सभी से सेक्युलर मोर्चा संपर्क में है. महागठबंधन के सवाल पर शिवपाल ने कहा कि हमें गठबंधन में शामिल किया जाएगा तो हम विचार करेंगे. भाजपा और बंगला आवंटन को लेकर किए सवाल पर शिवपाल ने कहा कि अखिलेश यादव ने भी बहुत से लोगों को बंगला दिया, जो विधायक नहीं थे उनको भी बंगला दिया. मैं पांच बार से विधायक हूं और हक बनता है मेरा. बंगला आवंटित कर किसी ने मुझ पर एहसान नहीं किया है.

सपा से बगावत पर ‘योगी कृपा’, शिवपाल यादव को मिला बसपा सुप्रीमो मायावती का बंगला

सपा में उपेक्षा और अपमान के कारण बनाया समाजवादी सेक्युलर मोर्चा

अखिलेश यादव को लेकर किए सवाल पर शिवपाल ने कहा कि मैंने बहुत इंतजार किया. एक रहने का बहुत प्रयास किया. लेकिन अखिलेश ने कोई जवाब नहीं दिया. अखिलेश ने दूसरी पार्टियों को क्यों बोलने का मौका दिया. पार्टी में 30 साल की मेहनत के बाद उपेक्षा और अपमान के कारण समाजवादी सेक्युलर मोर्चा बनाना पड़ा. अब कदम आगे बढ़ गए हैं और किसान, नौजवान और मुसलमान को आगे लेकर चुनाव लड़ा जाएगा.

यूपी में मुलायम सिंह की सीट छोड़कर सभी जगह लड़ेगा मोर्चा

योगी सरकार के मंत्री द्वारा भाजपा का एजेंट बताए जाने पर शिवपाल ने कहा कि भाजपा के एजेंट नहीं हैं. भाजपा से कभी उनके विचार नहीं मिले. वे तो उसे हटाने के लिए आए हैं. समाजवादी सेकुलर मोर्चा को भाजपा की बी टीम कहे जाने पर शिवपाल ने कहा कि जहां-जहां चुनाव हो रहे हैं वहां समाजवादी पार्टी की हैसियत क्या है पता चल जाएगा. हम ही समाजवादी पार्टी हैं और हम सेकुलर भी हैं. उन्होंने कहा कि मोर्चा सिर्फ नेता जी (मुलायम सिंह यादव) की सीट को छोड़कर बाकी सभी सीटों पर चुनाव लड़ेगा.