लखनऊ: यूपी के नए मुख्य सचिव अनूप चंद्र पांडे ने पदभार ग्रहण कर लिया है. उन्होंने रिटायर हुए राजीव कुमार के स्थान पर पद संभाला है. इस दौरान उन्होंने कहा कि सरकार ने जनता से जो वादे किए हैं, मेरी कोशिश रहेगी कि वो सब पूरे हों. उन्होंने कहा कि सरकार के पास अच्छे ब्यूरेक्रेट्स हैं. वो प्रदेश की बेहतरी के लिए उनका इस्तेमाल करेंगे. आईएएस अफसरों का बेहतर इस्तेमाल करेंगे. Also Read - बाढ़ स्थिति की समीक्षा के लिए छह राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ पीएम मोदी की बैठक, कई मंत्री भी रहे मौजूद

लखनऊ में चार्ज लेते हुए अनूप चंद्र पांडे ने कहा कि मुख्य सचिव राजीव कुमार ने जो काम किए वह उन्हें आगे बढ़ाने का प्रयास करेंगे. उन्होंने कहा कि इन्वेस्टर्स समिट के बाद यूपी में रोजगार के कई नए अवसर आए हैं. हम कोशिश करेंगे कि ज्यादा से ज्यादा इन्वेस्टर्स यहां आएं. उन्होंने कहा कि गन्ना किसानों को उनकी फसल का अच्छा मूल्य मिले, इसके प्रयास किए जाएंगे. Also Read - जिसका हुआ था Murder, वो सालों बाद लौटी, बोली- देखने आई हूं पिता-भाई जेल में हैं या नहीं...

बता दें कि आइएएस अधिकारी अनूप चंद्र पांडेय उत्तर प्रदेश के नए मुख्य सचिव बनाए गए हैं. अनूप चंद्र पांडे 1984 बैच के आइएएस अधिकारी हैं. वह इस समय औद्योगिक विकास आयुक्त पद पर हैं. इसस पहले वह उत्तर प्रदेश में कई महत्वपूर्ण विभागों में रहे हैं. उन्हें काफी गंभीर अफसर माना जाता है. अनूप चंद्र अगले अगस्त, 2019 में रिटायर होंगे. माना जा रहा है कि तब तक वह उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव रहेंगे ही. आइएएस अधिकारी अनूप चंद्र पांडेय ने इन्वेस्टर्स समिट कराने में अहम भूमिका निभाई थी. यूपी सरकार की कोशिशों को उन्होंने पंख दिए थे. मुख्य सचिव बनाया जाना यूपी में निवेश की संभावनाओं को तलाशने का तोफहा माना जा रहा है.