उत्तर प्रदेश: लखनऊ के नामी ब्राइटलैंड स्कूल में पहली कक्षा के छात्र को चाकू मारने के मामले में आरोपी छात्रा ने आज मीडिया के सामने खुद को निर्दोष बताते हुए कहा कि उसे इस मामले में फंसाया जा रहा है. साथ ही छात्रा ने मामले में सीबीआई जांच की मांग की. Also Read - अगस्ता वेस्टलैंड मामला: CBI ने दाखिल किया पूरक आरोपपत्र, राजीव सक्सेना और संदीप त्यागी सहित 11 के लोग शामिल

मीडिया से बातचीत में आरोपी छात्रा ने कहा, मैं चाहती हूं कि मामले की सघनता से जांच हो और असली गुनहगार को सख्त से सख्त सजा मिले. अगर मैं निर्दोष हूं तो मैं अवश्य ही दोषमुक्त होंगी. मैं जानती हूं कि मैं निर्दोष हूं. Also Read - Sushant Viscera Report: सुशांत मामले में गहरा रहा रहस्य, 'विसरा' को लेकर हुआ यह बड़ा खुलासा- मुंबई पुलिस...

छात्रा ने कहा कि उसे इस घटना के बारे में घर पर न्यूज चैनलों से पता चला था. छात्रा ने कहा कि मेरी एक फोटो उसे दिखाई गई है और बच्चे द्वारा उसे पहचानने में गलती हुई है.

आरोपी छात्रा ने स्कूल प्रबंधन पर आरोप लगाते हुए कहा कि मेरे और मेरे परिवार को फंसाने की कोशिश हुई है. कुछ दिन पहले स्कूल प्रबंधन, टीचर, मेरे पिता और मेरे साथ उनकी बहस हुई थी. शायद यही वजह है कि मुझे फंसाने की कोशिश की जा रही है.

छुट्टी के लिए बच्चे को चाकू मारे
बता दें कि 16 जनवरी को राजधानी के ब्राइटलैंड स्कूल में पहली कक्षा के एक छात्र को चाकू मार गंभीर रूप से घायल कर दिया था. गुरुवार को पुलिस ने बच्चे के बयान दर्ज किए. लड़के के मुताबिक, उसको चाकू स्कूल की ही एक सीनियर छात्रा ने मारा था.

7 साल के घायल छात्र ने पुलिस को बताया कि जब दीदी उसे मार रहीं थीं, तब उन्होंने कहा था कि अगर तुम मर जाओगे तो स्कूल की छुट्टी हो जाएगी. यह हादसा गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल की तरह ही था. रेयान में भी एक छेटे से बच्चे की हत्या एक अन्य छात्र ने एक्जाम की तारीख टालने के मकसद से की थी.