लखनऊ: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व सांसद कर्ण सिंह ने अयोध्या में भगवान राम की 221 मीटर ऊंची प्रतिमा की लम्बाई आधी करके उसके साथ सीता की भी मूर्ति लगाने का अनुरोध करते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा है. बता दें कि सीएम योगी ने कुछ समय पहले ही अयोध्या में भगवान् राम की विशाल प्रतिमा लगवाए जाने का ऐलान किया था.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को लिखे पत्र में ‘भगवान राम के प्रति माता सीता के समर्पण’ का जिक्र करते हुए कहा है कि अगर मुख्यमंत्री ने अयोध्या में भगवान राम की भव्य मूर्ति बनाने का निर्णय ले ही लिया है तो उनसे अनुरोध है कि भगवान राम की प्रतिमा की ऊंचाई को आधा करके वहां राम और सीता दोनों की युगल मूर्तियां बनवायी जाएं.

ये बताई वजह
उन्होंने कहा, ‘विवाह के बाद सीता बहू बनकर अयोध्या गयीं, लेकिन कुछ ही दिनों में श्रीराम के साथ उनको 14 वर्ष वनवास झेलना पड़ा. इसी दौरान 14वें साल में उनका अपहरण हुआ. श्रीलंका में बंदी बनकर रहीं. युद्ध हुआ और अग्नि परीक्षा के बाद महारानी बनकर अयोध्या वापस आयीं. उसके बाद दोबारा उन्हें वनवास सहन करना पड़ा.’ उन्होंने पत्र में लिखा है कि भगवान राम के साथ मूर्ति लगने से कम से कम सहस्त्रों वर्ष बाद सीता जी को अयोध्या में अपना उचित स्थान तो मिले.