लखनऊ: भारत बचाओ आंदोलन कर रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर जमकर लाठी चार्ज किया गया. पुलिस ने आरोप लगाया कि कांग्रेस कार्यकर्ता प्रदर्शन के दौरान बवाल कर रहे थे. ऐसी स्थिति में उन पर लाठीचार्ज किया गया. इसमें कांग्रेस विधायक अजय कुमार सहित कई कार्यकर्ता घायल हुए हैं. वहीं, कांग्रेस ने पुलिस के इन आरोपों को गलत बताया है. कांग्रेस का कहना है कि उनके नेता, कार्यकर्ता शांति पूर्ण ढंग से प्रदर्शन कर रहे थे. अलोकतांत्रिक तरीके से बर्बरता की गई. लाठीचार्ज में कई कांग्रेसी घायल हुए हैं. Also Read - किसानों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी है कांग्रेस पार्टी, सरकार बनने पर निरस्त होंगे ‘काले कृषि कानून’: रणदीप सुरजेवाला

प्रदेश में कानून व्यवस्था को लेकर कर रहे थे प्रदर्शन
बता दें कि आज यूथ कांग्रेस के तत्वाधान में कांग्रेस पार्टी द्वारा लखनऊ में ‘भारत बचाओ’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया था. पहले गांधी भवन में कांग्रेस की बैठक हुई. इसमें पूरे प्रदेश से कार्यकर्ता पहुंचे थे. कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर सहित कई बड़े नेताओं ने इसमें शिरकत की. प्रदेश में कानून व्यवस्था को लेकर हुई बैठक के खत्म होने के बाद कांग्रेस कार्यकर्ता बाहर आए. और प्रदर्शन शुरू किया. पुलिस का आरोप है कि कांग्रेसियों ने सड़क जाम करने का प्रयास किया. पथराव भी किया, इसके बाद लाठीचार्ज किया गया. Also Read - अहमद भाई के बाद कौन होगा कांग्रेस का अगला कोषाध्यक्ष, इन 4 नामों पर हो रही चर्चा

पुलिस ने गांधी भवन से निकलने पर रोका, पीटा
वहीँ, कांग्रेस का कहना है कि वह गांधी भवन से निकल रहे थे, लेकिन पुलिस ने उन्हें रोका. उन्होंने हटने को कहा लेकिन पुलिस नहीं मानी और बलपूर्वक हटाने के लिए अचानक लाठी चार्ज करने लगी. यूथ कांग्रेस के प्रवक्ता जीशान हैदर ने कहा कि पुलिस ने उनका शांति पूर्वक चल रहे प्रदर्शन में अशांति पैदा कर लाठी चार्ज किया. दौड़ा-दौड़ा कर पीटा. कायकर्ताओं को घेर कर लाठियां मारीं. वीडियो में देखा जा सकता है कि पुलिस ने कैसा व्यवहार किया. Also Read - इंटरव्यू: चिदंबरम ने कहा- BJP देश में निरंकुशता और नियंत्रण युग वापस लाएगी, देश पीछे जाएगा

कई घायल अस्पताल में भर्ती
पुलिस द्वारा लाठीचार्ज किए जाने पर कई कांग्रसी घायल हो गए. कांग्रेस विधायक अजय कुमार लल्लू गंभीर घायल हुए हैं. उन्हें लखनऊ के ट्रामा सेंटर रिफर किया गया है. कई अन्य कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के सिर फूटे हैं. राजबब्बर इन्हें देखने बलरामपुर अस्पताल पहुंचे हैं. यहां उन्होंने युवा कांग्रेसियों पर लाठी चार्ज की निंदा की है.