लखनऊ: कभी बीजेपी सरकार में यूपी के सीएम रहे राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह ने पिछड़ा वर्ग से आरक्षण को लेकर कई बातें की. उन्होंने कहा कि आरक्षण पिछड़ा वर्ग का हक है. अगर कोई इस हक को छीनने की कोशिश करे तो मुट्ठी बांधकर खड़े हो जाना और कोई इस हक को छीन ले तो फिर थप्पड़ मारकर इसे वापस ले लेना. कुछ हो अपना अधिकार नहीं खोने देना. बता दें कि कल्याण सिंह लोधी समुदाय से ताल्लुक रखते हैं. लोधी समुदाय पिछड़ा वर्ग में आता है. Also Read - नाग-नागिन का जोड़ा देख गांव में फैली दहशत, हार्ट अटैक से किसान की मौत; तस्वीरें

मेरे कहे में राजनीति तलाश लें
राज्यपाल कल्याण सिंह ने कहा कि मैं संवैधानिक पद पर हूं, इसलिए कोई राजनैतिक बात नहीं करूंगा, लेकिन आप इन शब्दों में राजनीति तलाश लें. उन्होंने लखनऊ में पूर्व पीएम वीपी सिंह की जयंती के दौरान एक कार्यक्रम में कहा कि आरक्षण का अधिकार बेहद मुश्किलों से आपको मिला है. इसमें वीपी सिंह की बड़ी भूमिका है, इसलिए इस अधिकार को सुरक्षित रखना है. Also Read - यूपी में बीजेपी के लिए अब पहली चुनौती अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी, क्‍या बसपा का ग्राफ गिरेगा?

राजनीति में सक्रिय रहें
कल्याण सिंह ने कहा कि लोध समाज के लोगों को राजनीति में सक्रिय रहना चाहिए. इसमें हिचकना नहीं चाहिए. टिकट के लिए परेशान नहीं होना, बल्कि अपने हक के लिए आवाज उठाना. उसके लिए किसी टिकट की जरूरत नहीं पड़ती है. अगर आपने इच्छा शक्ति होगी तो कोई भी पार्टी आपके सामने झुक जाएगी. उन्होंने कहा कि हमें अपना प्रतिनिधित्व बढ़ाना पड़ेगा. सरकारी सेवाओं में उच्च पदों पर हमारे समाज के लोग नहीं हैं. इसके लिए सोचना चाहिए. Also Read - यूपी के बाहुबली विधायक के बेटे विदेश भागने की खबर, पुलिस ने जारी किया लुक आउट नोटिस जारी