लखनऊ: लखनऊ पुलिस की गांधीगीरी और प्यार एक शख्स के लिए महंगा पड़ गया. पुलिस ने उसे सराहना के तौर पर गुलाब क्या दिया, यही उसके लिए मुसीबत हो गया. शख्स के पास गुलाब देख पत्नी भड़क गई. बार-बार बताने कि गुलाब पुलिस ने दिया है, के बाद भी पत्नी का पति से रात भर झगड़ा होता रहा. इसके बाद शख्स अगले दिन फिर से पुलिस के पास पहुंचा और गुलाब लेते हुए की फोटो कराई. और इसे पत्नी को दिखाया. इसके बाद पत्नी का गुस्सा शांत हुआ. ये घटना सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बनी हुई है. Also Read - Election in Uttar Pradesh 2020: प्रदेश में समय पर होंगे पंचायत चुनाव, कोरोनावायरस का चुनावों पर नहीं पड़ेगा असर : भूपेंद्र सिंह चौधरी

ट्रैफिक पुलिस ने दिया गुलाब
दरअसल, लखनऊ पुलिस शहर में हेलमेट को लेकर अभियान चला रही है. पिछले सप्ताह लखनऊ के सिकंदरबाद चौराहे पर ट्रैफिक पुलिस हेलमेट को लेकर चेकिंग कर रही थी. जो हेलमेट नहीं पहले थे, उन्हें मुफ्त में हेलमेट दिए जा रहे थे. और जो हेलमेट पहने थे, उन्हें गुलाब का फूल देकर सम्मानित किया जा रहा था. ऐसा ही एक युवक के साथ हुआ. वह हेलमेट लगाए था, इसलिए उसे पुलिस ने गुलाब देकर सम्मानित किया. Also Read - यूपी पहुंचा रेगिस्तानी टिड्डियों का दल, योगी आदित्यनाथ ने दिया निपटने का आदेश

Also Read - यूपी में कोरोना वायरस मामले 7000 के आंकड़े के पास, 945 प्रवासी श्रमिकों में लक्षण दिखे

पत्नी को पति की बात पर नही हुआ यकीन
शख्स ये गुलाब लेकर वह घर पहुंचा. घर में गुलाब देख पत्नी ने इस बारे में पूछा. पत्नी को बताया कि ट्रैफिक पुलिस ने गुलाब दिया, लेकिन पत्नी ने कहा कि पुलिस किसी को गुलाब क्यों देगी. सच्चाई पूछी, लेकिन पति द्वारा बार-बार वही बात बताई गई. इसे लेकर दोनों के बीच रात भर झगड़ा हुआ. अगले दिन पति फिर से सिकंदरबाग़ पुलिस के पास पहुंचा. उसने इंस्पेक्टर को पूरी घटना बताते हुए गुलाब दिए जाने के दौरान की तस्वीर मांगी. बमुश्किल तस्वीर खोज कर दी गई. इसके बाद शख्स ने ये फोटो पुलिस को दिखाई. तब जाकर दोनों के बीच झगड़ा शांत हुआ.

सब इंस्पेक्टर ने फेसबुक पर लिखी घटना
ट्रैफिक पुलिस के सब इंस्पेक्टर प्रेम शाही ने अपने फेसबुक पर लिखा. और इस घटना की जानकारी दी. सब इंस्पेक्टर का ये पोस्ट वायरल हो रहा है. उन्‍होंने इसमें बताया कि ‘यह सज्‍जन सज्‍जन आज मिले. कल के हेलमेट जागरुकता अभियान की फोटो मांगने लगे. फोटो को लेकर बहुत परेशान थे. बहुत खोजने पर फोटो मिल गई.’