कन्नौज/लखनऊ: उत्तर प्रदेश के कन्नौज जिले के छिबरामऊ थाना क्षेत्र के चिलोई गांव के निकट एक निजी स्लीपर बस और ट्रक की टक्कर के बाद लगी भीषण आग में लगभग 20 लोगों के मारे जाने की आशंका है. कन्नौज के पुलिस अधीक्षक (एसपी) अमरेंद्र प्रसाद सिंह ने बताया कि दुर्घटना में 20 लोगों के मारे जाने की आशंका है जबकि 21 लोगों को गंभीर घायल अवस्था में अस्पताल पहुंचाया गया है. इनमें जलती हुई बस से जान बचाने के लिए कूदे करीब 10 से 12 लोग भी शामिल हैं. उन्होंने कहा कि मृतकों की संख्या के बारे में अभी सटीक जानकारी नहीं है.

 

पुलिस ने बताया कि बस में करीब 45 यात्री सवार थे. बस फर्रुखाबाद से जयपुर जा रही थी. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने मंत्रिमंडलीय सहयोगी रामनरेश अग्निहोत्री को तत्काल मौके पर पहुंचने का निर्देश दिया और कन्नौज के जिलाधिकारी से दुर्घटना के बारे में रिपोर्ट मांगी है. मुख्यमंत्री ने मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये की और घायलों को पचास पचास हजार रुपये की आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया. उन्होंने कहा कि यह अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण घटना है. उन्होंने पीड़ित परिवारों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त कीं.


एसपी कन्नौज ने बताया आग पर पा लिया काबू
इस बीच कानपुर के पुलिस महानिरीक्षक मोहित अग्रवाल ने बताया कि 21 लोगों को बचाया गया है और उन्हें अस्पताल में दाखिल कराया गया है . उनके परिवार वालों से संपर्क करने की कोशिश की जा रही है. एसपी कन्नौज ने बताया कि आग पर काबू पा लिया गया है और बचाव कार्य जारी है. घायलों को जिला अस्पताल और मेडिकल कॉलेज में दाखिल कराया गया.


डीजल टैंक में विस्फोट से बस में लगी आग
प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने लखनऊ में कहा कि ऐसा लगता है कि डीजल टैंक में विस्फोट हुआ और उसके कारण बस में आग लग गई. डीजीपी ने कहा कि हमारी प्राथमिकता यात्रियों को बचाने की है. मौके पर वरिष्ठ अधिकारी मौजूद हैं. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक को तत्काल मौके के जाने का निर्देश दिया और घायलों को हर तरह की चिकित्सकीय सहायता मुहैया कराने के लिए कहा. (इनपुट भाषा)