मथुरा: उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद में साले की मौत पर उसके अंतिम संस्कार में शामिल हुए जीजा की स्कूटी लेकर शव को कंधा दे रहे एक युवक और उसके दो साथी फरार हो गए. पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार भरतपुर निवासी अजय अपने साले संजय के अंतिम संस्कार में शामिल होने यहां पहुंचा. मृतक की शवयात्रा की तैयारी के समय एक ओर चीख-पुकार मची हुई थी. Also Read - सीएम योगी का बड़ा ऐलान, बोले- यूपी में शादी विवाह के लिए पुलिस या प्रशासनिक अनुमति की जरूरत नहीं

ऐसे में मृतक के परिजनों को दो-तीन युवक अनजान लगे, लेकिन वे जिस प्रकार मृतक के जीजा अजय को ढांढस बंधा रहे थे, उन्हें लगा वे उनके जान-पहचान के होंगे. जबकि, अजय उन्हें अपने साले संजय का मित्र समझकर व्यवहार कर रहा था. इस बीच अर्थी उठी तो वे कंधा देने भी पहुंच गए. उन्होंने बताया कि कुछ दूर चलने पर उनमें से एक ने पैदल-पैदल स्कूटी लेकर चल रहे अजय से कहा कि वह भी अर्थी को कंधा दे ले. जीजा होने के कारण वह कुछ झिझका तो उसने दुहाई दी कि जवान मौत है. इसलिए कोई गलत बात नहीं होगी. आपको भी कंधा देना चाहिए. Also Read - शिया धर्मगुरू मौलाना कल्बे सादिक का निधन, बेटे ने दी जानकारी, सीएम योगी आदित्यनाथ ने जताया दुख

यूपी: अपहरण कर चलती कार में छात्रा से गैंगरेप, फिर मारनेे के लिए ये तरीका अपनाया Also Read - Nandababa Temple Namaz Case: मंदिर परिसर में नमाज पढ़ने वाले दोनों आरोपियों की जमानत याचिकाएं कोर्ट ने की खारिज

इतनी बात पर अजय ने स्कूटी उसे पकड़ा दी और खुद कंधा देते हुए अर्थी के साथ चलने लगा. स्कूटी की चाभी उसी में लगी हुई थी। श्मशान पहुंच कर जब उसने स्कूटी की चाबी वापस मांगनी चाही तो वह युवक और उसके साथ दिखाई दे रहे दो अन्य युवक गायब थे. आपस में पूछताछ में पता चला कि वे न तो अजय के जानकार थे, और न ही संजय (मृतक) के दोस्त. वे स्कूटी लेकर फरार हो चुके थे. पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.