मथुरा: इज्जतनगर स्थित रेलवे सुरक्षा बल की विजिलेंस टीम ने उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले में छापा मारकर एक युवक को रेलवे के फर्जी टिकटों एवं उपकरणों सहित गिरफ्तार किया है. आरपीएफ विजिलेंस इंस्पेक्टर मयंक चौधरी के अनुसार अवैध टिकट का यह धंधा होलीगेट बाजार स्थित एक साइबर कैफे से संचालित किया जा रहा था.

उन्होंने बताया कि यह युवक इतना शातिर है कि उसने भारतीय रेलवे पर्यटन एवं खानपान निगम (आइआरसीटीसी) की वेबसाइट पर दो दर्जन से अधिक फर्जी आइडी बना रखी थीं. यहां तक कि उसके जो ग्राहक साइबर कैफे पर आते थे उसने नाम से भी आइडी बना ली थी. उन्होंने बताया कि हमें सूचना मिली थी कि मथुरा में फर्जी टिकटों का कारोबार हो रहा है. इसलिए हमने होलीगेट स्थित अग्रवाल कम्युनिकेशन पर छापा मारकर भूपेन्द्र कुमार अग्रवाल को गिरफ्तार कर लिया. चौधरी ने बताया कि उसके पास से 74 हजार 390 रुपए से अधिक की 5 तत्काल और 22 रिजर्व टिकटें बरामद हुई हैं.

बुलंदशहर हिंसा: योगी सरकार ने SSP बुलंदशहर को हटाया, दो पुलिस अधिकारियों के भी तबादले

प्रति टिकट 500 से 800 रुपए तक अधिक वसूलता
वह पिछले तीन माह में चार लाख रुपए से अधिक कीमत की टिकटें बना चुका है. वह यात्रियों से इन टिकटों के एवज में प्रति टिकट 500 से 800 रुपए तक अतिरिक्त वसूलता था. उन्होंने बताया कि उसके लैपटॉप के डेटा से पता किया जाएगा कि उसने अब तक रेलवे को कुल कितनी रकम का धोखा दिया है तथा उसके साथ इस गोरखधंधे में कितने लोग शामिल हैं. गौरतलब है कि पिछले एक माह में यह तीसरा युवक पकड़ा गया है जो फर्जी आईडी बनाकर रेलवे तथा यात्रियों को चूना लगाने का काम कर रहा था. इससे पूर्व भी दो अन्य युवकों को पकड़ा जा चुका है.