लखनऊ: भीम आर्मी ने आगामी लोकसभा चुनाव में विपक्षी गठबंधन की कमान बहुजन समाज पार्टी अध्यक्ष मायावती को दिए जाने की वकालत की है. भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर ने यहां संवाददाताओं से कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में विपक्षी गठबंधन की कमान बहुजन समाज पार्टी अध्यक्ष मायावती को दी जानी चाहिए. वह अगले आम चुनावों के मद्देनजर बहुजन समाज के पक्ष में माहौल बनाने की कोशिश कर रहे हैं.Also Read - UP: भीम आर्मी चीफ को जान से मारने की धमकी के मामले में राष्ट्रीय स्वर्ण परिषद अध्‍यक्ष के खिलाफ FIR दर्ज

Also Read - अयोध्या से यूपी चुनाव अभियान की शुरूआत करेंगे ओवैसी, मोर्चा में शामिल हो सकती है भीम आर्मी

इस सवाल पर कि वह मायावती को कमान सौंपने की बात कर रहे हैं, जबकि बसपा प्रमुख उन्हें भाजपा का एजेंट बताती हैं, चंद्रशेखर ने कहा कि बसपा हमारा घर है और घर में कुछ गलतफहमियां तो होती रहती हैं. चंद्रशेखर ने कहा की गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा उपचुनाव को सपा और बसपा ने मिलकर लड़ा और वहां भाजपा को शिकस्त दी. उनकी कोशिश होगी कि इस गठबंधन में राष्ट्रीय लोक दल तथा कुछ अन्य पार्टियां भी शामिल हों. अगर ऐसा नहीं होता है तो वह बहुजन मूवमेंट की तरफदारी करेंगे. Also Read - UP Assembly Election 2022: चुनाव से पहले बसपा को झटका, सपा में शामिल हुए बाहुबली मुख्तार अंसारी के भाई सिबगतुल्ला

बिहार में बन सकता है नया समीकरण, नीतीश के खिलाफ एक होंगे शरद-कुशवाहा!

आगामी लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेगी भीम आर्मी

उन्होंने कहा कि भीम आर्मी आगामी लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेगी, लेकिन भाजपा की पराजय सुनिश्चित करने के लिए पूरा दम लगाएगी. अयोध्या से लौट कर आए चंद्रशेखर ने वहां जाने के कारण के बारे में पूछे जाने पर कहा कि उन्हें जानकारी मिली थी की अयोध्या में विश्व हिंदू परिषद की धर्म सभा और शिवसेना के कार्यक्रम के कारण लोग डरे हुए हैं. उन्होंने अयोध्या के जिला प्रशासन के अधिकारियों से मुलाकात की और उन्हें ज्ञापन सौंपा. मंदिर निर्माण को लेकर शिवसेना की अयोध्या में अचानक बढ़ी गतिविधियों के बारे में पूछे जाने पर भीम आर्मी प्रमुख ने कहा कि सब हथकंडा है.