लखनऊ: बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने राजस्थान के कोटा में बच्चों की मौत पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर उदासीन तथा असंवेदनशील रवैया अपनाने का और कांग्रेस पार्टी के शीर्ष नेतृत्व पर चुप्पी साधने का आरोप लगाया है. मायावती ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का नाम लिए बिना कहा कि कांग्रेस पार्टी का शीर्ष नेतृत्व, खासकर महिला महासचिव इस मामले में चुप्पी साधे हुए हैं. उन्होंने कहा ”अच्छा होता कि वह उप्र की तरह राजस्थान जातीं और उन गरीब पीड़ित माओं से मिलतीं.” Also Read - राजस्‍थान सरकार का बड़ा फैसला- प्राइवेट हॉस्पिटल में 50 प्रतिशत बिस्तर कोरोना संक्रमितों के लिए आरक्षित

बीएसपी सुप्रीमो गुरुवार को ट्वीट में कहा ‘कांग्रेस शासित राजस्थान के कोटा जिले में हाल ही में लगभग 100 मासूम बच्चों की मौत से माओं की गोद उजड़ना अति-दुःखद और दर्दनाक है. उस पर वहां के मुख्यमंत्री गहलोत और उनकी सरकार इसके प्रति अभी भी उदासीन, असंवेदनशील तथा गैर-जिम्मेदार बने हुए हैं, जो अति-निन्दनीय है.’ Also Read - Rajasthan by Polls: राजस्‍थान में तीन विधानसभा सीटों पर उपचुनाव आज, वोटिंग जारी

मायावती ने अगले ट्वीट में कहा ‘उससे भी ज्यादा दुःखद है कांग्रेस पार्टी के शीर्ष नेतृत्व, खासकर महिला महासचिव का इस मामले में चुप्पी साधे रखना. अच्छा होता कि वह उत्‍तर प्रदेश की तरह राजस्थान जा कर उन गरीब पीड़ित माओं से भी मिलतीं, जिनकी गोद उनकी पार्टी की सरकार की लापरवाही के कारण उजड़ गई.’ Also Read - कोरोना पॉजिटिव हुए सीएम योगी और अखिलेश यादव के लिए प्रियंका गांधी ने किया Tweet, कहा- उम्मीद है वे...

एक अन्य ट्वीट में बसपा नेता ने कहा ‘यदि कांग्रेस की महिला राष्ट्रीय महासचिव राजस्थान के कोटा में जाकर मृतक बच्चों की मांओं से नहीं मिलती हैं तो उप्र में किसी भी मामले में पीड़ितों के परिवार से उनकी मुलाकात राजनैतिक स्वार्थ और कोरी नाटकबाजी ही मानी जाएगी, जिससे जनता को सर्तक रहना है.’