मेरठ: मेरठ पुलिस ने दावा किया कि एक आईएमईआई देशभर के करीब साढ़े 13 हजार मोबाइल फोन में चल रहा है. पुलिस ने इस सिलसिले में मोबाइल कंपनी और उसके सर्विस सेंटर के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर लिया है और जांच जारी है. पुलिस ने बताया कि जांच में सामने आया है कि जिस आईएमईआई का नंबर मोबाइल शो कर रहा है, उसी आईएमईआई नंबर के 13 हजार से अधिक मोबाइल प्रचलन में हैं. Also Read - हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के एनकाउंटर की खबरों के बाद सोशल मीडिया पर जमकर ट्रेंड हुए रोहित शेट्टी

पुलिस अधीक्षक (नगर) अखिलेश एन. सिंह ने गुरुवार को बताया कि मेडिकल थाना क्षेत्र में एक पुलिसकर्मी ने मोबाइल फोन खरीदा, जिसमें खराबी आने के बाद उसने इसे बनने के लिए दिया. उन्होंने कहा कि इसके बावजूद इसमें खराबी रहने पर पुलिसकर्मी ने इसे साइबर प्रकोष्ठ मेरठ को दिया. जांच में पाया गया कि जिस आईएमईआई का नंबर मोबाइल शो कर रहा है, उसी आईएमईआई नम्बर के 13 हजार से अधिक मोबाइल प्रचलन में हैं. Also Read - Encounter in Uttar Pradesh: STF को एक और बड़ी कामयाबी, विकास दुबे के बाद अब 50 हजार के इनामी बदमाश को किया ढेर

पुलिस अधीक्षक ने कहा कि यह बड़ा संगीन मामला है और सुरक्षा से जुड़ा हुआ है. यह कंपनी की प्रथमदृष्टया लापरवाही प्रतीत हो रही है. इसका अपराधियों द्वारा लाभ लिया जा सकता है. एसपी ने कहा कि संबंधित धाराओं में मेडिकल थाने में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और जांच के लिए साइबर प्रकोष्ठ के विशेषज्ञों की टीम बनाई गई है.