मेरठ: जिले के सिविल लाइन थाना क्षेत्र में कल देर रात पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हो गई. दोनों बदमाश एक कॉलेज के हॉस्टल में आए हुए थे. इसी दौरान सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने हॉस्टल घेर लिया. बदमाशों द्वारा गोलियां चलाने पर पुलिस ने इसका जवाब दिया. दोनों ओर से गोलियां चलीं. एक बदमाश को गोली लगने के बाद पुलिस ने पकड़ लिया, जबकि एक भागने में सफल रहा. इस ऑपरेशन में एक सब इंस्पेक्टर के हाथ में भी गोली लगी है. Also Read - यूपी में लॉकडाउन, सोशल डिस्टेंसिंग लागू करने पहुंची पुलिस को भीड़ ने किया लहूलुहान 

रायबरेली में पुलिस मुठभेड़ पर सवाल, पकड़े गए बदमाश ने कहा- दिन में पकड़ा और रात मार दी गोली Also Read - COVID-19: उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 116 हुई

जिला पुलिस प्रवक्ता के अनुसार दो बदमाश मेरठ कॉलेज के सीताराम हॉस्टल पर आए थे. बुधवार देर रात पुलिस को सूचना मिली थी. सूचना पर कार्रवाई करते हुए सिविल लाइन थाने के इंस्पेक्टर नीरज मलिक और अपराध शाखा की टीम ने छात्रावास को घेर लिया. पुलिस दल को देख बदमाशों ने उन पर गोलियां चलाई. पुलिस की जवाबी कार्रवाई के बाद हुई मुठभेड़ में एक गोली सब इंस्पेक्टर आशु भारद्वाज के हाथ में गोली लगी है जबकि 25,000 रुपए का एक इनामी बदमाश घायल हुआ है. Also Read - यूपी में लड़की हुई 'कोरोना', लड़का हुआ 'लॉकडाउन', दोनों के लिए चल रहा जश्न, जानें मामला

एनकाउंटर में मारा गया बलराज भाटी, कभी दिल्ली पुलिस में था कांस्टेबल, ऐसे बना कुख्यात अपराधी

प्रवक्ता ने बताया कि एक अन्य बदमाश अंधेरे का लाभ उठाकर भागने में सफल रहा. पुलिस ने सब इंस्पेक्टर दारोगा और बदमाश को अस्पताल में भर्ती कराया है. घायल बदमाश की पहचान संजय उर्फ सोनू के रूप में हुई है. वह एक इंजीनियर के मकान में डकैती के मामले में वांछित भी था. पुलिस फरार बदमाश की तलाश में जुटी है.