मेरठ: जिले के सिविल लाइन थाना क्षेत्र में कल देर रात पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हो गई. दोनों बदमाश एक कॉलेज के हॉस्टल में आए हुए थे. इसी दौरान सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने हॉस्टल घेर लिया. बदमाशों द्वारा गोलियां चलाने पर पुलिस ने इसका जवाब दिया. दोनों ओर से गोलियां चलीं. एक बदमाश को गोली लगने के बाद पुलिस ने पकड़ लिया, जबकि एक भागने में सफल रहा. इस ऑपरेशन में एक सब इंस्पेक्टर के हाथ में भी गोली लगी है.Also Read - भाजपा नेता पर पत्नी से मारपीट करने और दहेज में कार मांगने का आरोप, केस दर्ज हुआ तो बोले- सब झूठ है

Also Read - तो क्या आजमगढ़ से चुनाव लड़ने के लिए नहीं तैयार थे धर्मेंद्र यादव, उपचुनाव के झटकों से कैसे उबरेगी सपा?

रायबरेली में पुलिस मुठभेड़ पर सवाल, पकड़े गए बदमाश ने कहा- दिन में पकड़ा और रात मार दी गोली Also Read - चीनी जासूसों की गिरफ्तारी के बाद शरण देने वाले गेस्ट हाउस के मालिक ने कई राज उगले, यूपी एसटीएफ ने जांच शुरू की

जिला पुलिस प्रवक्ता के अनुसार दो बदमाश मेरठ कॉलेज के सीताराम हॉस्टल पर आए थे. बुधवार देर रात पुलिस को सूचना मिली थी. सूचना पर कार्रवाई करते हुए सिविल लाइन थाने के इंस्पेक्टर नीरज मलिक और अपराध शाखा की टीम ने छात्रावास को घेर लिया. पुलिस दल को देख बदमाशों ने उन पर गोलियां चलाई. पुलिस की जवाबी कार्रवाई के बाद हुई मुठभेड़ में एक गोली सब इंस्पेक्टर आशु भारद्वाज के हाथ में गोली लगी है जबकि 25,000 रुपए का एक इनामी बदमाश घायल हुआ है.

एनकाउंटर में मारा गया बलराज भाटी, कभी दिल्ली पुलिस में था कांस्टेबल, ऐसे बना कुख्यात अपराधी

प्रवक्ता ने बताया कि एक अन्य बदमाश अंधेरे का लाभ उठाकर भागने में सफल रहा. पुलिस ने सब इंस्पेक्टर दारोगा और बदमाश को अस्पताल में भर्ती कराया है. घायल बदमाश की पहचान संजय उर्फ सोनू के रूप में हुई है. वह एक इंजीनियर के मकान में डकैती के मामले में वांछित भी था. पुलिस फरार बदमाश की तलाश में जुटी है.