लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में रिश्तों को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है. एक किशोरी के साथ उसके ही दो सगे भाइयों ने कथित रूप से कई बार गैंगरेप किया. परेशान किशोरी ने सहेली से मदद मांगी और पूरी घटना को मोबाइल में कैद किया. इसके बाद किशोरी ने मामले की शिकायत पुलिस से की. इस पर पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर उन्‍हें गिरफ्तार कर लिया. पुलिस की पूछताछ में आरोपियों ने जुर्म कबूल किया है. Also Read - 54 जिलों से हैं 50% प्रवासी, 44 यूपी-बिहार के ही, PM मोदी का वाराणसी, योगी का गोरखपुर, अखिलेश का इटावा लिस्ट में

Also Read - मेरठ में कोरोना टेस्ट सैंपल लेकर भागे बंदर! लोगों को सताया संक्रमण फैलने का डर

  Also Read - नोएडा में टिड्डी दल से बचाव के लिए बनी कमेटी, डीएम ने किसानों को दी सलाह

मेरठ के एसपी सिटी रण विजय सिंह का कहना है कि पीड़ित किशोरी की शिकायत के आधार पर घटना की जांच की जा रही है. जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जायेगी. थाना सिविल लाइन क्षेत्र निवासी पीड़िता के अनुसार उसके दो सगे भाई धर्मेश और प्रशान्त पिछले पांच साल से उसके साथ बलात्कार कर रहे हैं. विरोध करने पर मां को जान से मारने की धमकी देने के साथ दोनों उससे मारपीट भी करते हैं. पीड़िता ने मीडिया को बताया कि उसके पिताजी दिल के मरीज थे. पिछले साल ही उनकी मौत हुई है. घर पर मां और दो भाई हैं. मानसिक और शारारिक रुप से बहुत ज्यादा पीड़ित होने के बाद वह मेरठ की सामाजिक संस्था सर्वोदय के पदाधिकारियों से मिली. संस्था का साथ मिलने के बाद फिर उसने आज हिम्मत करके पुलिस को घटना के संबंध में तहरीर दी. वह 12 वीं कक्षा में पढ़ती है.

बागपत के जिला अस्पताल में भर्ती किशोरी से गैंगरेप, एक गिरफ्तार

मां-बाप की हत्या की धमकी देते थे दोनों

छात्रा ने बताया कि पिछले पांच साल से उसके साथ ये घिनौना काम किया जा रहा है. जब भी वो मां-पापा को बताने की बात कहती तो भाई धमकी देते थे कि दोनों को मार देंगे. पिता दिल के मरीज थे. ऐसे में उन्हें इसका पता चलता तो कुछ भी हो सकता था. इसी वजह से वह घुट-घुटकर जीती रही.