लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश के मेरठ जिले में एक महिला वकील ने बुधवार की शाम कचहरी से बाउंड्री रोड़ तक कार दौड़ाते हुए कई वाहनों को टक्कर मार दी. पुलिस ने महिला को पकड़ा तो उसने थाने में जमकर बवाल किया.

पुलिस अधीक्षक नगर रणविजय सिंह ने बताया कि महिला के खिलाफ सार्वजनिक स्थल में हंगामा करने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया जा रहा है. फिलहाल पुलिस ने किसी प्रकार महिला वकील को काबू में कर मेडिकल के लिए जिला अस्पताल भेजा है. उल्लेखनीय है कि महिला एडवोकेट दीप्ति चौधरी और उसके साथी दरोगा सुखपाल सिंह के मारपीट के मामले में पुलिस ने पिछले दिनों भाजपा पार्षद मनीष चौधरी को गिरफ्तार करके जेल भेजा था. बताया जाता है कि भाजपा पार्षद पर आरोप लगाने वाली महिला अधिवक्ता दीप्ति चौधरी बुधवार शाम अपनी सेंट्रो कार से कचहरी से घर के लिए रवाना हुई.

 

शराब के नशे में धुत महिला ने बेतहाशा दौड़ाई कार
आरोप है कि शराब के नशे में धुत महिला ने बेतहाशा कार दौड़ाते हुए कचहरी से लेकर बाउंड्री रोड तक दो कार और दो बाइकों में टक्कर मार दी जिसके चलते सड़क पर हड़कंप मच गया. मामले की जानकारी मिलने पर पुलिस ने घेराबंदी करते हुए महिला को दबोच लिया और लालकुर्ती थाने ले गई. आरोप है कि थाने में इंस्पेक्टर को भाजपा का गुर्गा बताते हुए दीप्ति चौधरी ने जमकर उत्पात मचाया.

मेरठ: रेस्तरां में मारपीट करने के आरोप में भाजपा पार्षद गिरफ्तार, दरोगा लाइन हाजिर

भाजपा पार्षद के गुंडों ने उसकी कार में टक्कर मारी: बोली महिला वकील
थाने में दीप्ति चौधरी ने मीडिया के समक्ष आरोप लगाया कि भाजपा पार्षद के गुंडों ने उसकी कार में टक्कर मारी हैं. दीप्ति चौधरी ने आरोप लगाया कि पार्षद के लोग जान से मारने की धमकी देकर मुकदमा वापस लेने का दबाव बना रहे हैं.