वाराणसी: श्रमिक स्पेशल ट्रेन में यात्रा कर रहे दो यात्री बुधवार सुबह उस वक्त मृत पाए गए, जब यह ट्रेन मुंबई से चलकर वाराणसी के मंडुवाडीह रेलवे स्टेशन पर पहुंची. रेलवे के कर्मचारियों द्वारा इन शवों को उस वक्त बरामद किया गया, जब अन्य सभी यात्री ट्रेन से उतर चुके थे और ट्रेन को साफ-सफाई के लिए यार्ड में भेज दिया गया था. Also Read - Mumbai Weather Updates: मुंबई में मूसलाधार बारिश का अनुमान, ऑरेंज अलर्ट जारी

इसके बाद रेलवे पुलिस को मौके पर बुलाया गया, जिन्होंने शव को अपने कब्जे में ले लिया. मृतकों में से एक की पहचान दशरथ प्रजापति (20) के रूप में की गई, जो शारीरिक रूप से असक्षम था. वह जौनपुर के बदलापुर में अपने घर जा रहा था. दूसरे की पहचान अभी तक नहीं हो पाई है. जीआरपी डीएसपी अखिलेश राय ने कहा कि प्रजापति के परिवार वाले शव को लेने के लिए पहुंच चुके हैं. उन्होंने कहा कि पोस्टमार्टम के लिए शवों को भेजने की औपचारिकताओं का ध्यान रखा जा रहा है. ट्रेन ने मुंबई के लोकमान्य तिलक टर्मिनल से अपने सफर की शुरुआत की थी. Also Read - ट्रेन के सामने कूदी महिला और उसकी दो बच्चियों की मौत, ट्रैक पर खेलता मिला एक साल का मासूम

बता दें कि देशभर में अबतक सैकड़ों प्रवासी श्रमिकों की मौत हो चुकी है. इससे पहले सड़क हादसे व भूख प्यास से ज्यादातर मजदूरों की मौत हुई है. लेकिन इस बार चलती ट्रेन में प्रवासी श्रमिक की मौत से कोहराम मच गया है. गौरतलब है कि रेलवे मंत्रालय द्वारा श्रमिकों को उनके घरों तक व उनके गृह राज्यों तक पहुंचाया जा रहा है. Also Read - LPG Price: एलपीजी सिलेंडर के दाम में हुई वृद्धि, जानें अब कितना करना होगा भुगतान

(इनपुट-आईएएनएस)