मिर्जापुर: केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर में एक सभा में सबोधन के दौरान फूट-फूट कर रो पड़ीं. उन्हें पास ही मौजूद एक समाजसेविका ने संभालने की कोशिश की, लेकिन फिर भी केंद्रीय मंत्री रोती रहीं. यह देख सभा में अन्य लोगों की आंखें भी नाम हो गईं.

यूपी की लेडी कांस्टेबल की तस्वीर, जिससे भावुक हुआ पूरा पुलिस विभाग, DGP ने दिया ये तोहफा

दरअसल, केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल मिर्जापुर के पत्रकार तृप्त चौबे की श्रद्धांजलि सभा में पहुंची थीं. तृप्त चौबे की गिनती जिले के वरिष्ठ पत्रकारों में थी. वह यहां एक अखबार से जुड़े हुए थे. सभा में अनुप्रिया पटेल को संबोधन के लिए बुलाया गया. अनुप्रिया ने जैसे ही भाषण शुरू किया, वह भावुक हो गईं और रोने लगीं. खुद पर काबू नहीं रख पाईं अनुप्रिया पटेल फूट-फूट कर रोने लगीं. उन्हें पास ही मौजूद एक समाजसेविका ने चुप कराया. अनुप्रिया पटेल ने कहा कि पत्रकार तृप्त चौबे उनके भाई जैसे थे.

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल पर फब्ती कसने के आरोप में तीन लोग गिरफ्तार

इस दौरान अनुप्रिया पटेल ने पत्रकार की पत्नी और उनके बच्चों की हर संभव मदद का वादा किया. तृप्त चौबे की दो बेटियां हैं. दोनों पढ़ रही हैं. उन्होंने कहा कि वह परिवार की मदद करेगीं. उन्होंने कहा कि तृप्त चौबे की कमी को पूरा नहीं किया जा सकता है. उनके निधन पर उन्हें बहुत निराशा हुई. केंद्रीय मंत्री को इस तरह से रोता देख माहौल और अधिक गमगीन हो गया.