लखनऊ: यूपी के मुरादाबाद की एक पॉश कॉलोनी में हिंदू परिवारों के पलायन की खबर बीते दिनों खूब वायरल हो रही थी. इन वायरल होती खबरों व पोस्ट में दावा किया जा रहा था कि 81 हिंदू परिवारों का पालयन हुआ है. हालांकि अब मुरादाबाद पुलिस ने इस दावे को खारिज कर दिया है और पुलिस ने कहा है कि इस कॉलोनी के लोग चाहते हैं कि उनकी समहति के बिना किसी को भी मकान न बेचा जाए. हालांकि पुलिस का कहना है कि अपना मकान बेचना निजी स्वतंत्रता के दायरे में आता है. इसके लिए किसी को मजबूर नहीं किया जा सकता है.Also Read - UP से गर्लफ्रेंड को लेकर भागे 16 साल के हिंदू लड़के को MP में दर्जनभर लोगों ने 'मुस्लिम' समझकर जमकर पीटा

पुलिस की मानें तो इस मामले की मिजिस्ट्रेट जांच कराई गई है. इस जांच में सामने आया है कि 81 मकानों में से हाल फिलहाल में कोई भी मकान बेचा नहीं गया है. पुलिस ने यह भी कहा कि कॉलोनी के दो मकानों को मकानमालिकों ने कुछ महीने पहले अपनी मर्जी से बेचा था. इसके लिए उन लोगों पर किसी तरह का कोई दबाव नहीं था. Also Read - Chhattisgarh: पत्नी ने धर्म परिवर्तन के लिए प्रताड़ना और गोमांस खिलाने का आरोप लगाया, पति समेत तीन अरेस्‍ट

मुरादाबाद पुलिस ने ट्वीट करते हुए बताया कि मुरादाबाद के शिव मंदिर कॉलोनी के लोग पलायन नहीं कर रहे हैं. उनकी मांग है कि कॉलोनी के घरों को बिना उनकी सहमति के किसी बाहरी व्यक्ति को न बेचा जाए. पुलिस की माने तो कॉलोनी े लोगों ने वेलफेयर सोसायटी बनाने का फैसला लिया है. पुलिस का कहना है कि अपना मकान खरीदने और बेंचने के लिए व्यक्ति पूरी तरह स्वतंत्र है. Also Read - MP में भीड़ द्वारा पीटा गया शख्‍स "हिंदू नाम" रखकर बेच रहा था चूड़ियां, दो आधार कार्ड मिले: गृह मंत्री

क्या किया जा रहा था दावा

वायरस पोस्ट व खबरों में दावा किया जा रहा था कि मुरादाबाद के शिवमंदिर कॉलोनी में 81 हिंदू परिवार पलायन करने की तैयारी में हैं. इस पोस्ट में आरोप लगाया गया कि हिंदू परिवारों को अपना घर छोड़ने को मजबूर किया जा रहा है. साथ ही कॉलोनी के दोनों मेन गेट्स पर मुस्लिम समुदाय के लोगों ने घर खरीद लिया है और अब ये लोग मांस फेंककर हिंदुओं को परेशान करते हैं. इस कारण इस कॉलोनी के 81 घरों में हिंदू परिवारों ने मकान बिकाऊ है का पोस्टर लगाया गया है. बता दें कि पुलिस द्वारा इस दावे को अब खारिज कर दिया गया है.