चंदौली: उत्‍तर प्रदेश के मुगलसराय जंक्‍शन रेलवे स्‍टेशन को अब पंडित दीनदयाल उपाध्याय के नाम से जाना जाएगा. आज इसका नाम बदल गया है. इसका कोड भी MGS (मुगलसराय) से बदलकर DDU (दीनदयाल उपाध्याय) हो गया है. ट्रेन के टिकट बुक करने के लिए यही कोड डालना होगा. आज सीएम योगी आदित्यनाथ, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने यहां पहुंच रेलवे स्टेशन का नाम बदलने का औपचारिक ऐलान किया. इस दौरान कार्यक्रम में रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा, यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और बीजेपी पार्टी के कई बड़े नेता भी मौजूद रहे. बता दें कि इस स्‍टेशन को भी भगवा रंग में रंगा गया है. Also Read - मध्य प्रदेश उपचुनाव: कमल नाथ का शिवराज पर तंज- अपने क्षेत्र का विकास न कर पाने वाला प्रदेश की तस्वीर क्या बदलेगा, मेरे क्षेत्र को देखो

राहुल बताएं, कांग्रेस ने 55 साल में क्या किया
इस दौरान अमित शाह ने कहा कि यह अच्छी बात है. पंडित दीनदयाल उपाध्याय ने देश के लिए काफी कुछ किया. उन्होंने कहा कि इस बार भी देश की सत्ता का रास्ता उत्तर प्रदेश से ही होकर जाएगा. यहां बीजेपी सिर्फ एक साल में एक लाख करोड़ का इन्वेस्टमेंट लाई है. बीजेपी इस बार भी यहां से 74 से ज्यादा सीटें जीतेगी. यूपी में बुआ, बबुआ के साथ बाबा भी साथ आ जाएं तब भी कोई फर्क नहीं पड़ता है. हम विकास कर रहे हैं. राहुल गांधी बताएं कि 55 साल में कांग्रेस ने क्या किया. उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर हम असम में एनआरसी लाए. सपा बसपा कांग्रेस बांग्लादेशी घुसपैठियों पर अपनी राय साझा करें.

‘एकात्म एक्सप्रेस’ भी शुरू
इस दौरान ‘एकात्म एक्सप्रेस’ ट्रेन को भी हरी झंडी दिखाई गई. यह ट्रेन सप्ताह में दो दिन सुलतानपुर के रास्ते चलाई जाएगी. इस पूरे रेलवे स्टेशन को केसरिया रंग में रंग दिया गया. परिसर में प्रवेश और निकास द्वार के साइनबोर्ड के साथ-साथ प्लेटफार्म के नाम को भी बदल दिया गया है. बता दें कि ‘एकात्म मानववाद’ का संदेश देने वाले राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के विचारक दीनदयाल उपाध्याय फरवरी 1968 में मुगलसराय रेलवे स्टेशन के पास ही संदिग्ध अवस्था में मृत पाए गए थे.