लखनऊ/मऊ: उत्‍तर प्रदेश में गैंगस्‍टर एक्‍ट के तहत अंतर्राज्‍यीय गिरोह (आईएस-191 गैंग) के सरगना मुख्‍तार अंसारी की पत्‍नी अफशा अंसारी और अंसारी के साले अनवर शहजाद व सरजील रजा की लगभग 28 करोड़ 58 लाख की भूमि और भवन संपत्ति की कुर्की होगी. वहीं, मऊ जिला प्रशासन ने शनिवार को मुख्तार अंसारी के दो सहयोगियों के अवैध निर्माण को ढहा दिया. Also Read - BJP अध्‍यक्ष JP Nadda के निवास पर केंद्रीय मंत्री अमित शाह, राजनाथ सिंह और नरेंद्र सिंह तोमर ने की मीटिंग

गाजीपुर के जिलाधिकारी ने कथित माफिया और बसपा विधायक मुख्तार अंसारी की पत्‍नी अफशा अंसारी और उनके साले की संपत्ति की कुर्की के आदेश जारी किए हैं. अपर मुख्‍य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्‍थी ने गृह विभाग के ‘सोशल मीडिया ग्रुप’ पर शनिवार को यह जानकारी साझा की. Also Read - VIDEO: Delhi-UP Border में किसान बैरियर तोड़ने की कर रहे कोशिश, पुलिस को करना पड़ रही मशक्‍कत

जानकारी के मुताबिक गत पांच नवंबर को गाजीपुर के जिलाधिकारी द्वारा गैंगस्‍टर अधिनियम की धारा 14(1) के अन्‍तर्गत अन्‍तर्राज्‍यीय गिरोह (आईएस-191 गैंग) के सरगना मुख्‍तार अंसारी की पत्‍नी अफशा अंसारी और अंसारी के साले अनवर शहजाद व सरजील रजा की लगभग 28 करोड़ 58 लाख की भूमि और भवन संपत्ति की कुर्की के आदेश जारी कर दिए हैं. Also Read - तलाकशुदा भाभी से देवर ने किया रेप, दोस्तों को भी गैंगरेप के लिए सौंपा, फिर...

गैंगस्‍टर अधिनियम की धारा 14(1) के अन्‍तर्गत जिलाधिकारी को गैंगस्‍टर की संपत्ति कुर्क करने का अधिकार है.

एसपी ने कहा, मुख्तार अंसारी गिरोह आईएस 191, अन्य आपराधिक गिरोह, भू-माफिया, अवैध अतिक्रमण/निर्माण करने वालों के विरुद्ध जारी कार्यवाही अभियान के क्रम में दो अवैध अतिक्रमण/निर्माण अनुमानित कीमत कुल 01 करोड़ 80 लाख के ध्वस्तीकरण के संबंध.

मऊ से मिली खबर के अनुसार मुख्तार अंसारी के करीबी साथी इरशाद और मकसूद ने कोतवाली थाना क्षेत्र के बंधा रोड पर सरकारी जमीन पर अवैध रूप से एक इमारत का निर्माण किया था. मऊ के अपर पुलिस अधीक्षक त्रिभुवन नाथ त्रिपाठी ने शनिवार को बताया कि जिला प्रशासन ने पुलिस की मदद से इस अवैध निर्माण को ढहाया. उन्होंने बताया कि इरशाद और मसूद मुख्तार अंसारी के सहयोगी हैं, जिनकी संपत्ति को ध्‍वस्‍त किया गया है. बता दें कि गाजीपुर जिले के मूल निवासी मुख्‍तार अंसारी मऊ जिले की मऊ सदर विधानसभा क्षेत्र से विधायक है.