अयोध्या: उत्तर प्रदेश के अयोध्या जिले के गोसाईगंज थाना क्षेत्र के एक गांव में दो सगी बहनों की गला रेत कर हत्या किए जाने का मामला सामने आया है. पुलिस ने पड़ताल के लिए मौके पर डाग स्क्वायड के साथ फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट्स को बुला लिया है. घटना का पता रविवार सुबह नौ बजे तब चला जब दूधिया दूध देने आया.

जानकारी के मुताबिक, गोसाईगंज थाना क्षेत्र के बोधीपुर मजरे स्यामनगर गांव निवासी रामकृष्ण पांडे की पुत्रवधु मोनिका पांडे (25) और उसकी सगी बहन प्रियंका पांडे शनिवार रात खाना खाकर अपने कमरे में सोने चली गई थी. जबकि राम कृष्ण क्षेत्र के एक गन्ने के क्रेशर पर रात्रि ड्यूटी कर रहे थे. मोनिका का पति संतराम पांडेय लुधियाना में कोई नौकरी करता है.

बताते हैं कि शनिवार रात घर में दोनों बहनें अकेले थीं. रविवार सुबह जब दूधिया दूध देने आया तो दूध देने के लिए बाहर से आवाज लगाई. कोई जवाब नहीं आने पर वह घर के अंदर दाखिल हुआ, जहां दोनों बहनों का गला रेता शव देख कर सन्न रह गया. उसका शोर सुनकर मौके पर भीड़ जुट गई और मामले की सूचना पुलिस को दी गई.

पुलिस ने घटनास्थल पर घंटों जांच पड़ताल की और घटना की गंभीरता को देखते हुए मौके पर फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट्स के अलावा डॉग स्क्वायड को भी बुला लिया गया है. फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है.