अयोध्या: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज अयोध्या में राम मंदिर की आधारशिला रखी, इससे पहले भूमिपूजन कराया गया. इसमें पीएम मोदी, मोहन भागवत, योगी आदित्यनाथ व राज्यपाल आनंदीबेन पटेल शामिल रहीं. हालांकि हिंदू रीति-रिवाजों के अनुसार पूजा करा रहे पंडित को दक्षिणा देना पड़ता है लेकिन इस दौरान पुजारी ने पीएम से क्या दक्षिणा की मांग की यह बेहद अनोखा है.Also Read - क्या अब खत्म हो जाएगा आंदोलन? सरकार का नया प्रस्ताव किसानों को मंजूर! आज SKM की बैठक में फैसला संभव

मंत्रोचार के बीच जब पीएम मोदी ने भूमिपूजन और आधारशिला रखने का काम इसके, इसके बाद यज्ञ में उन्हें महत्वपूर्ण दक्षिणा देना पड़ता. लेकिन इस दौरान पुरोहित ने कहा कि किसी भी यज्ञ में दक्षिणा महत्वपूर्ण होती है. दक्षिणा तो आज इतनी मिल चुकी है कि आज आरबों लोगों के आशीर्वाद प्राप्त हो रहे हैं. अब इससे ज्यादा क्या ही दक्षिणा दे कोई. पुजारी ने कहा कि जिन समस्याओं को दूर करने का संकल्प लिया गया है. अगर 5 अगस्त में कुछ और जुड़ जाए तो भगवान की कृपा होगी. Also Read - क्या आज हो जाएगा आंदोलन खत्म करने का ऐलान? किसान संगठनों की अहम बैठक में होगा फैसला; जानें अपडेट्स

बता दें कि इस दौरान पीएम मोदी ने भगवान राम को दंडवत प्रणाम किया और खुद से ही खुद के माथे पर तिलक भी लगाया. इस दौरान पीएम ने 9 शिलाओं को रखकर राम जन्मभूमि की आधारशिला रखी. इस दौरान सैकड़ों संत इस दृश्य के साक्षी बने. बता दें कि इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का भी पूरा ध्यान रखा गया. किसी तरह से नियमों में कोताही नहीं बरती गई. Also Read - Kisan Andolan: आंदोलन खत्म करने का जल्द हो सकता है ऐलान? संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक में आगे की रणनीति पर चर्चा