मुजफ्फरनगर में आयोजित हो रहे किसान महापंचायत को लेकर पश्चिमी उत्तर प्रदेश में प्रशासन हाई अलर्ट पर है. इस बाबत मुजफ्फरनगर प्रशासन नरेश टिकैत को मनाने में जुटा हुआ है. मुजफ्फरनगर जिला प्रशासन आयोजित हो रहे महापंचायत को स्थगित करने की अपील कर रहा है. इस बाबत कई जिले की सीमाओं को पूरी तरह प्रशासन द्वारा सील कर दिया गया है.Also Read - शादी के कार्ड पर किसान आंदोलन की झलक, दूल्हे ने लिखवाया- जंग अभी जारी है, MSP की बारी है

बता दें कि नरेश टिकैत ने मुजफ्फरनगर में पंचायत करने और आसपास के किसानों को गाजीपुर सीमा पर पहुंचने का अह्वान किया है. बता दें कि टिकैत ने आस पास के किसानों को महापंचायत के लिए सुबह 11 बजे मुजफ्फरनगर के राजकीय इंटर कॉलेज पहुंचने को कहा है. Also Read - UP Election 2022: सपा-RLD को समर्थन देने पर पलटे नरेश टिकैत, बोले- भाजपा हमारी दुश्मन नहीं

नरेश टिकैत ने आज अपने ट्वीट में किसानों से सभी हाईवे मार्गों पर टेंट लगाने की बात कही. इस बाबत प्रशासन पूरी तरह अलर्ट है और हाईवे पर निगरानी को बढ़ा दी गई है. बता दें कि बुलंदशहर की सीमाओं को सील कर दिया गया है. साथ ही किसानों की आवाजाही पर लरोक लगा दी गई है. Also Read - UP Election 2022: आरएलडी और सपा को समर्थन देगी भारतीय किसान यूनियन, नरेश टिकैत ने की घोषणा

बता दें मुजफ्फरनगर प्रशासन नरेश टिकैत को मनाने में जुटी है कि किसान महापंचायत को स्थगित कर दिया जाए. दिल्ली की ओर जाने वाली सभी सीमाओं को प्रशासन द्वारा सील कर दिया गया है.