Corona Virus in Noida: उत्तर प्रदेश के नोएडा सेक्टर-24 स्थित ईएसआईसी अस्पताल में भर्ती 22 वर्षीय एक युवती ने अस्पताल की सातवीं मंजिल से कूदकर जान दे दी. तबीयत खराब होने पर वह 14 जून को इस अस्पताल में भर्ती हुई थी. वह कोरोना संदिग्ध मरीज भी थी. उसने इसी साल बीकॉम की पढ़ाई पूरी की थी. Also Read - देश के सबसे बड़े स्लम एरिया धारावी में कोरोना पर ब्रेक, मिली बड़ी कामयाबी

नोएडा के डीसीपी संकल्प शर्मा ने बताया, “कंचन नाम की युवती ने अस्पताल की सातवीं मंजिल से कूदकर अपनी जान दी है. इस मामले की जांच चल रही है. हम परिजनों से भी बात कर रहे हैं और कारणों का पता लगाया जा रहा है.” Also Read - Lockdown in Patna: 10 जुलाई से पटना में एक हफ्ते के लिए सख्त लॉकडाउन, ये सब रहेगा बंद

घटना की सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने युवती के शव को कब्जे में लेकर ग्रेटर नोएडा के जिम्स अस्पताल भेजा गया, वहीं सैंपल लेने के बाद युवती का शव परिजनों को सौंप दिया गया. पुलिस का कहना है कि जांच रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल पाएगा कि युवती को कोरोना था या नहीं. वहीं युवती इतना डिप्रेशन में क्यों आ गई, इसकी भी जांच की जा रही है. Also Read - वैक्सीन न बनी तो भारत में आएगी तबाही, 2021 की सर्दियों में हर दिन आएंगे कोरोना के 2. 87 लाख केस, रिसर्च में दावा

बता दें कि ये पहला मौका नहीं है जब कोरोना के मरीज या कोरोना के संदिग्ध मरीज ने ऐसा कदम उठाया हो. इससे पहले भी कई लोग घर या अस्पताल में जान दे चुके हैं, जिनकी रिपोर्ट या तो पॉजिटिव थी या रिपोर्ट आने वाली थी. वह कोरोना से इतना दहशत और डिप्रेशन में चले गए कि उन्होंने जान देने का फैसला कर ले रहे हैं.