लखनऊ: नोएडा के दो पुलिस कर्मियों को कथित अनुशासनहीनता की वजह से निलंबित कर दिया गया. इन दोनों पर आरोप है कि वह बुधवार को राज्य के पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह की गाड़ी प्रत्यक्ष तौर पर पहचानने में विफल रहे थे. बताया जा रहा है कि दोनों पुलिस कर्मियों ने वर्दी भी ठीक से नहीं पहन रखी थी. Also Read - हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट लगवाने की आज आखिरी मौका, नहीं लगवाई तो देना होगा भारी जुर्माना

Also Read - UP: युवती ने 2 साल पहले जिस 'अशोक राजपूत' से की थी शादी, वह निकला अफजल खान

गौतम बुद्ध नगर पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह दिल्ली में एक बैठक में जा रहे थे, तभी वह नोएडा से गुजरे थे. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) अजय पाल शर्मा ने बताया कि पुलिस निरीक्षक और कांस्टेबल सेक्टर 39 के पुलिस थाने के थे और दोपहर करीब 2 बजकर 30 मिनट आम्रपाली पुलिस जांच चौकी पर तैनात थे. एसएसपी ने बताया कि एसआई और कांस्टेबल ने ड्यूटी के समय अपनी टोपी नहीं पहन रखी थी. उन्होंने उसे अपनी जिप्सी में रखा हुआ था. यह दोनों डीजीपी के वाहन को नहीं पहचान सके और इनका पूरा रवैया भी लापरवाही भरा था. Also Read - Noida's sector 63 Fire: नोएडा की झुग्गियों में लगी भीषण आग, अब तक दो बच्चों के शव बरामद

इलाहाबाद हाईकोर्ट का बड़ा फैसला, एससी-एसटी एक्ट में बिना नोटिस गिरफ्तारी नहीं

अनुशासन को लेकर जवाब तलब

पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) अजय पाल शर्मा ने इस बात को खारिज कर दिया कि एसआई और कांस्टेबल ने डीजीपी के साथ सवाल-जवाब किया था. शर्मा ने पुष्टि की कि उन दोनों ने डीजीपी को पहचाना था और वह वाहन के निकट भी पहुंचे थे. बता दें कि डीजीपी ने पुलिस विभाग में अनुशासन को लेकर जवाब तलब किया. इसके बाद डीजीपी ने एसएसपी को कार्रवाई के निर्देश दिए थे.