जौनपुर: सीजेएम कोर्ट ने 2010 में ओलंदगंज में चक्का जाम और तत्कालीन गृहमंत्री पी. चिदंबरम का पुतला फूंकने के मामले में जफराबाद के भाजपा विधायक डॉ. हरेंद्र सिंह के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी कर भाजपा विधायक की गिरफ्तारी का वारंट जारी किया है. मामले की अगली सुनवाई 19 जून को होगी.

ये था मामला
28 अगस्त 2010 को अजय पांडेय, डॉ.हरेंद्र सिंह, ईश्वर देव, राकेश और अन्य लोगों ने तत्कालीन गृहमंत्री  पी.चिदंबरम का पुतला लेकर प्रदर्शन किया, पुतला फूंका साथ ही आपत्तिजनक नारेबाजी भी की और ओलंदगंज में रास्ता जाम कर दिया. जिस वजह से सिपाही मनोज और राजेंद्र ने कोतवाली थाने में इन लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई थी. इस मामले में पुलिस द्वारा कोर्ट में चार्जशीट दाखिल करने के बाद आरोपी तलब हुए और उनकी जमानत भी हुई. लेकिन इसके बाद मामले की सुनवाई के दौरान डॉ. हरेंद्र सिंह कई तिथियों से कोर्ट में हाजिर नहीं हुए. जिसके चलते सीजेएम कोर्ट ने उनके खिलाफ गिरफ्तारी का आदेश दिया.

मुकदमा वापसी का भी हुआ था प्रयास
सीजेएम कोर्ट ने उनके खिलाफ पहले जमानती वारंट जारी किया था. एक वर्ष पूर्व पुलिस ने कोर्ट में रिपोर्ट दाखिल की और कहा कि डॉ. हरेंद्र भाजपा विधायक हैं और इस समय घर पर नहीं हैं बल्कि विदेश गए हुए हैं. तब कोर्ट ने उनकी गिरफ्तारी का वारंट जारी किया है. हालांकि बीजेपी के सत्ता में आने के बाद शासन द्वारा मुकदमा वापस लेने की भी बात उठी थी और इस बाबत पत्रावली का विवरण भी तैयार हुआ था लेकिन आगे की कार्यवाही नहीं हुई. इस मामले में कोर्ट ने एक बार फिर से  बुधवार को गिरफ्तारी वारंट जारी किया है.