लखनऊ: रोजगार और व्यापार की तलाश में युवाओं को अब इधर-उधर नहीं भटकना होगा. स्वरोजगार और उद्योग से जुड़ी हर जानकारी अब उन्हें मोबाइल की एक क्लिक पर मिलेगी. योगी सरकार युवाओं को स्वरोजगार का सबसे हाइटेक प्लेटफॉर्म देने के लिये उद्यम सारथी ऐप लांच करने जा रही है. राज्य सरकार से मिली जानकारी के अनुसार स्वरोजगार और उद्योग के जुड़े सबसे हाइटेक प्लेटफार्म की सौगात खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ यूपी दिवस के मौके पर युवाओं को देंगे. 24 जनवरी को मुख्यमंत्री उद्यम सारथी ऐप का शुभारंभ करेंगे. Also Read - भारत के लिए 'सेक्युलरिज्म' शब्द सबसे बड़ा खतरा, इससे उबरना होगा: योगी आदित्यनाथ

ओडीओपी योजना के तहत तैयार इस ऐप को युवाओं के लिए रोजगार की मास्टर की माना जा रहा है. उद्यम सारथी ऐप के जरिये लोग अलग अलग विभागों और क्षेत्र में रोजगार और व्यवसाय के उपलब्ध अवसरों की पूरी जानकारी कहीं भी और किसी भी वक्त हासिल कर सकेंगे. Also Read - राहुल और प्रियंका गांधी ने कहा- यूपी की बीजेपी सरकार में हर वर्ग के लिए मुश्किल बनी खराब कानून व्यवस्था

प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में उद्योग के अवसर और उसके बारे में विस्तृत जानकारी ऐप में होगी. किसी भी तरह का व्यवसाय शुरू करने की प्रक्रिया और उससे जुड़ी केंद्र व राज्य सरकार की योजनाओं का भी पूरा ब्योरा ऐप में उपलब्ध होगा. Also Read - CM योगी की सोशल मीडिया साइट 'कू' पर धमाकेदार एंट्री, अकाउंट बनाते ही इतने हुए फॉलोवर्स

स्वरोजगार शुरू करने के लिए राज्य सरकार की सहायता और विशेषज्ञों की राय लेने की सुविधा भी मौजूद होगी. उद्योग शुरू करने के लिए लोन की उपलब्धता और अप्लाई करने की पूरी प्रक्रिया भी ऐप में ही मौजूद होगी. तैयार प्रोडक्ट के लिए बाजार की उपलब्धता और अन्य चीजों का पूरा ब्योरा भी ऐप में होगा. हर बिजनेस मॉडल की पूरी जानकारी और उसके विकास की गाइडलाइन भी ऐप से मिल सकेगी.

उद्यम सारथी ऐप शुरू करने के पीछे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की योजना युवाओं को रोजगार और व्यापार से जुड़ी हर जानकारी और सुविधा एक प्लेटफार्म पर उपलब्ध कराने की है ताकि उत्तर प्रदेश को आने वाले समय में देश का सबसे बड़ा उद्यम हब बनाया जा सके. योगी सरकार की मंशा ऐप के जरिये युवाओं में उद्यम विकास को बढ़ावा दे कर नौकरी मांगने वालों की जगह नौकरी देने वालों की सूची में शामिल करने की है. इस योजना के तहत योगी सरकार महिलाओं,किसान और युवाओं के लिए विकास की नई रूप रेखा भी पेश करने जा रही है .