लखनऊ: उत्तर प्रदेश के वाराणसी स्थित संपूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय के छात्रसंघ चुनाव में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद को तगड़ा झटका देते हुए एनएसयूआई ने सभी सीटों पर कब्जा कर लिया है. पिछले सभी सीटों पर परिषद का कब्जा था. संपूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय के अध्यक्ष पद पर शिवम शुक्ला, उपाध्यक्ष पर चन्दन कुमार मिश्र, महामंत्री पद पर अवनीश मिश्रा और पुस्तकालय मंत्री के पद पर रजनीकान्त दुबे ने जीत हासिल की है. ये चारों उमीद्वार कांग्रेस के स्टूडेंट विंग एनएसयूआई के हैं. Also Read - गुरु रविदास महाराज जयंती: प्रियंका गांधी ने वाराणसी में रविदास मंदिर में मत्था टेका, लंगर छका

  Also Read - Priyanka Gandhi Stops Speech: प्रियंका गांधी ने भाषण रोक मंच से लगाया सीएम अशोक गहलोत को फोन, फिर...

छात्र संघ के नव निर्वाचित अध्यक्ष शिवम शुक्ला ने इसकी जानकारी दी. शुक्ला ने बताया कि पिछले साल हुए छात्र संघ के चुनाव में विश्वविद्यालय की चारों सीटों पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने जीत हासिल की थी जबकि उसके पिछले साल एबीबीपी और एनएसयूआई का दो दो सीटों पर कब्जा था. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर इस जीत पर खुशी जताई है. उन्होंने कहा कि संपूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय के छात्रसंघ चुनावों में एनएसयूआई की जीत से मैं बहुत खुश हूँ. मुझे अपने छात्र साथियों पर गर्व है.

जनता अब कांग्रेस के साथ: विश्वनाथ कुँवर
वाराणसी यूथ कांग्रेस के जिलाध्यक्ष विश्वनाथ कुँवर ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के छात्र संगठन एबीवीपी की हार और एनएसयूआई की जीत यह दर्शाती है कि जनता अब कांग्रेस के साथ है. उन्होंने कहा कि देश और प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी के लोगों द्वारा जिस प्रकार दमनकारी नीति अपनाकर माहौल खराब किया जा रहा है और छात्रों के ऊपर हमला करवाया जा रहा है आज उसी के जवाब स्वरूप प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भारतीय जनता पार्टी की छात्र संगठन एबीवीपी की करारी हार हुई है और कांग्रेस ने अपना परचम लहराया है.