उन्नावः जिले के मांखी थाना क्षेत्र के निस्पंसरी गांव में नवरात्रि के अंतिम दिन सोमवार को कन्या भोज के दौरान पूजा करते समय आग लग गयी, जिससे एक बालिका की मौत हो गयी. आग में दो अन्य बालिकाएं बुरी तरह से झुलस गयीं. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निस्पंसरी में कन्या भोज के दौरान आग लगने की घटना में एक बालिका की मृत्यु पर गहरा दुःख व्यक्त किया है. उन्होंने मृतक के परिजनों के लिए दो लाख रुपये की आर्थिक सहायता की भी घोषणा की है.

घायल बच्चियों को इलाज के लिए सीएचसी तथा मृतक कन्या को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजा गया है. जिले के आलाधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर जांच शुरू कर दी है. थानाध्‍यक्ष मांखी राजबहादुर ने बताया कि थाना क्षेत्र के पूरा निस्पंसरी निवासी सुनील ने नवरात्रि के अंतिम दिन घर पर कन्या भोज आयोजित किया था. इसी बीच घर के बाहर बनी किराने की दुकान पर अचानक आग लग गयी और देखते ही देखते विकराल रूप ले लिया.

ट्रांसपोर्टरों की हड़ताल की वजह से पेट्रोल-डीजल की बढ़ी किल्लत, पेट्रोंल पंप में लगी लंबी लाइन

किराने की दुकान से जुड़े आवास पर ही कन्या भोज का आयोजन था. आग की चपेट मे आकर एक बच्ची पूजा (उम्र 7 वर्ष) की मौत हो गयी. हादसे में खुशी 10 साल और मिष्टी 4 साल झुलस गई हैं. दोनों को इलाज के लिए सीएचसी में भर्ती कराया गया है. घटना के कारणों की जांच की जा रही है. वहीं लखनऊ में एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आग लगने की घटना में एक कन्या की मृत्यु पर गहरा दुःख व्यक्त किया है.

उन्होंने मृतक के परिजनों के लिए दो लाख रुपये की आर्थिक सहायता की भी घोषणा की है. मुख्यमंत्री ने हादसे में घायल कन्याओं के समुचित इलाज के निर्देश जिला प्रशासन को दिये हैं. उन्होंने उन्नाव के जिलाधिकारी तथा पुलिस अधीक्षक को मामले की जांच कल आठ अक्टूबर, 2019 तक पूरी कर शासन को आख्या उपलब्ध कराने के निर्देश भी दिये हैं.