लखनऊ: कोरोना आपदा के कारण गहराए रोजगार संकट के बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने राज्य सरकार के सभी विभागों में रिक्त पदों पर तीन महीने में भर्ती प्रक्रिया शुरू करने का निर्देश दिया है. इसी कड़ी में आयुष विभाग में यूपी लोक सेवा आयोग द्वारा चयनित आयुर्वेद व होम्योपैथी चिकित्सा अधिकारी को ऑनलाइन नियुक्ति पत्र जारी किए. Also Read - Ayurveda medicines for COVID-19: कोरोना के हल्के लक्षण वाले मरीजों के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताईं ये दवाइयां, जानिए क्या है खाने का तरीका

आयुष मंत्री डॉ. धर्म सिंह सैनी ने सभी चिकित्सकों को पारदर्शी मेरिट आधारित तरीके से ऑनलाइन ही डिस्पेंसरी आवंटन भी किया गया. उन्होंने कहा कि राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा आयुर्वेद चिकित्सकों के 517 और होम्योपैथिक चिकित्सकों के 575 पदों पर नियुक्ति की गई थी, जिन्हें विभाग द्वारा नियुक्ति दी गई है. Also Read - लोकसभा में होम्योपैथी और मेडिसिन बिल पास, सर्वसम्मति से पारित हुआ प्रस्ताव

आयुष मंत्री डॉ. धर्म सिंह सैनी ने सभी को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि यह आपदाकाल है, प्रदेशवासियों को उनकी सर्वाधिक आवश्यकता है. उन्हें अपने चिकित्सकीय कौशल व सेवा के माध्यम से प्रदेश को कोरोना की इस विकट आपदा से बाहर निकालना है. सभी चिकित्सक युवा हैं और वे सभी अपने कार्यक्षेत्र में पूर्ण मनोयोग से काम करें, जिससे आम लोगों की आयुष विधा और योगी सरकार के प्रति विश्वास और बढ़े. Also Read - Corona Stories: 105 साल की महिला ने आयुर्वेद के दम पर कोरोना को हराया, जानें कैसे...

इस मौके पर आयुष विभाग के विशेष सचिव एवं मिशन निदेशक राज कमल, एसएन सिंह, मनोज कुमार भी मौजूद रहे. ज्ञात हो कि मुख्यमंत्री योगी ने युवाओं को रोजगार देने के लिए भर्तियों को तेजी से आगे बढ़ाने का निर्देश दिया है. उन्होंने विभिन्न विभागों से खाली पदों का ब्यौरा मांगा है.