लखनऊ : ‘जल ही जीवन है, इसे बचाना हमारा कर्तव्य है’. इसी बात को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश की विधानसभा ने स्टाफ और अतिथियों को केवल आधा गिलास पानी देने का निर्देश जारी किया है. विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित के निर्देश पर प्रमुख सचिव प्रदीप दुबे ने सचिवालय में आधा गिलास पानी देने का आदेश जारी किया.Also Read - UP: BJP समर्थित बागी सपा विधायक नितिन अग्रवाल बड़े अंतर से यूपी विधानसभा के उपाध्यक्ष चुने गए, CM योगी ने SP पर हमला किया

सचिवालय प्रशासन ने इसे तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया है. इसके तहत अब किसी भी अधिकारी, कर्मचारी या अतिथि को पानी का पूरा भरा गिलास नहीं दिया जाएगा. अगर किसी को जरूरत है तो दोबारा मांग सकता है. Also Read - UP: CM योगी का विपक्ष पर हमला- कुछ लोग बेशर्मी से तालिबान का समर्थन कर रहे, सभी के चेहरे एक्सपोज करने चाहिए

इससे पहले किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज (केजीएमयू) में भी आधा गिलास पानी की मुहिम को लागू किया गया था. आधा गिलास पानी की मुहिम बड़े संस्थानों, होटलों, रेस्टोरेंट, व कई स्कूल-कॉलेजों ने अपना ली है. Also Read - UP Assembly Monsoon Session 2021: यूपी विधान मंडल का मॉनसून सत्र आज से, सवालों की झड़ी लेकर तैयार विपक्ष, CM योगी ने कही ये बात...