कानपुर: कानपुर प्रशासन ने शहर की 91 चमड़े की टेनरियों को तत्काल बंद करने का आदेश दिया है, जो गंगा नदी में अपने कचरे को बहा रही हैं, जिससे बड़े पैमाने पर जल प्रदूषित होता है. एक अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी. प्रयागराज में 14 जनवरी से कुंभ मेला शुरू होने से कुछ दिन पहले प्रशासन ने यह कदम उठाया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने का आदेश दिया है कि गंगा का पानी शुद्ध हो.

उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (यूपीपीसीबी) के अधिकारी ने बताया, “इसका मकसद यह सुनिश्चित करना है कि गंगा प्रदूषण मुक्त रहे और सबसे बड़े धार्मिक महोत्सव में जाने वाले भक्तों को शुद्ध और साफ पानी मिलता रहे.”

सूत्रों ने कहा कि छबीलापुरवा इलाके में शेष 28 टेनरियों को बंद करने का आदेश मंगलवार को जारी किए जाने की संभावना है. पड़ोसी क्षेत्र उन्नाव में 15 से अधिक टेनरियों को कुंभ के चलते पहले ही बंद कर दिया गया है. कुछ टेनरियों को छोड़ दिया गया है, क्योंकि उनके पास अपने खतरनाक कचरे के लिए ट्रीटमेंट संयंत्र थे और वे नदी में इनका पानी नहीं छोड़ रहे थे.