सीतापुर : खैराबाद थाना क्षेत्र के महेशपुर गांव में आदमखोर कुत्तों के झुण्ड ने एक 12 वर्षीय बच्ची पर हमला कर उसे मार डाला. इस घटना को लेकर ग्रामीणों का आक्रोश चरम पर है. आदमखोर कुत्तों के आगे सीतापुर प्रशासन और यूपी शासन की सभी कवायदें फेल होती नजर आ रही हैं. आदमखोर कुत्तों के हमले में अब तक 13 बच्चे जान गवां चुके हैं. गौरतलब है कि सीतापुर जिले में पिछले लगभग 6 माह से आदमखोर कुत्तों का आतंक छाया हुआ है. 13 नौनिहालों को गंवाने के बाद भी इन खूंखार कुत्तों पर काबू पाने में सीतापुर प्रशासन लगातार बेबस और नाकाम है.

अमेरिकी मीडिया में छाया सीतापुर के आदमखोर कुत्तों का आतंक

आक्रोशित ग्रामीण ने शव रखकर हाइवे जाम किया
6 माह में 13 वीं मौत के बाद ग्रामीणों का आक्रोश चरम पर है. ग्रामीणों ने मृत बच्ची का शव सीतापुर- लखनऊ हाइवे पर रख कर जाम लगा दिया है. वही सीतापुर के कुत्तों ने प्रशासन की नींद उड़ा रखी है. प्रशासन की हर कवायद कुत्तों के आगे फेल है. यहां तक कि विदेशी मीडिया ने भी सीतापुर के कुत्तों का मुद्दा प्रमुखता से उठाया था. मीडिया में खबरें फैलने और चौतरफा दबाव पड़ने के पश्चात सीएम योगी ने भी इन घटनाओं का संज्ञान लिया और दो दिन पूर्व ही सीतापुर जाकर पीड़ितों और मृतकों के परिजनों से मुलाकात भी की. प्रशासन ने कुत्तों को पकड़ने के लिए लखनऊ और मथुरा से डॉग कैचर स्कॉड को भी मदद के लिए बुलाया. सूत्रों के अनुसार इस बीच आक्रोशित ग्रामीणों ने लगभग 20 कुत्तों को मार डाला. वही 30 से ज्यादा कुत्तों को टीम ने पकड़ने में कामयाबी पाई.

सीतापुर के आदमखोर कुत्तों ने 4 और मासूमो को बनाया शिकार, 2 बच्चों की मौत