लखनऊ /बाराबंकी : शनिवार देर रात आई आंधी में पटना-कोटा एक्सप्रेस बाराबंकी के पास पटरी से उतर गई. घटना के समय ट्रेन में सैकड़ों यात्री सवार थे. सूचना मिलते ही आनन-फानन में एक्सिडेंट रिलीफ ट्रेन को मौके पर रवाना किया गया. दुर्घटना के चलते कई ट्रेन लेट हो गईं.

आंधी के चलते पेड़ उखड़ कर इंजन पर गिरा
शनिवार देर रात आई आंधी के चलते पटना से चलकर फैजाबाद के रास्ते लखनऊ आ रही पटना-कोटा एक्सप्रेस (13237) के इंजन पर बाराबंकी के निकट शीशम का पेड़ उखड़ कर गिर गया जिसके चलते इंजन के पहिए पटरी से उतर गए. घटना के वक्त चूंकि ट्रेन की रफ्तार धीमी थी इसलिए कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ. वाकया देर रात का होने के कारण ट्रेन में सवार ज्यादातर यात्री सो रहे थे. ट्रेन के दुर्घटनाग्रस्त होने से यात्रियों में अफरा तफरी मच गई. सूचना पर उत्तर रेलवे लखनऊ मंडल ने तत्काल एक्सिडेंट रिलीफ ट्रेन को मौके पर रवाना कर दिया.

इमरजेंसी ब्रेक लगाने से इंजन पटरी से उतर गया

ट्रेन के ड्राइवर के मुताबिक अचानक पेड़ गिरने की वजह से उसने इमरजेंसी ब्रेक लगाई, जिससे इंजन के दो पहिए पटरी से उतर गए. दुर्घटना के दौरान यात्रियों में चीख-पुकार मच गई. उत्तर रेलवे रेलवे प्रशासन के अधिकारियों ने लखनऊ के चारबाग स्टेशन से एक्सिडेंट रिलीफ ट्रेन को फ़ौरन रवाना किया. वहीं दुर्घटना की वजह से पूर्वोत्तर की ओर जाने और आने वाली ट्रेनों के आवागमन पर खासा असर पड़ा है. दुर्घटना की सूचना के बाद इस रूट की ट्रेनें जहां हैं उनको वहीं पर रोक दिया गया था. रेलवे प्रशासन ट्रेनों का संचालन सुचारू करने करने के लिए प्रयासरत है.