लखनऊ : उत्तर प्रदेश सरकार के सोशल मीडिया हेल्प डेस्क पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को कथित तौर पर हत्या की धमकी देने वाले मुंबई के एक व्यक्ति को महाराष्ट्र एटीएस (एंटी-टेरिरिजम इस्कॉर्ड) ने गिरफ्तार किया है. पुलिस ने शनिवार को व्यक्ति की गिरफ्तारी की. 25 साल के कामरान अमीन ने शुक्रवार को कहा था कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की बम विस्फोट में हत्या कर दी जाएगी.Also Read - UP MLC Election 2022: यूपी में विधान परिषद की 36 सीटों के लिए दो चरणों में चुनाव का ऐलान

लखनऊ के गोमती नगर पुलिस स्टेशन में मामले को लेकर एक प्राथमिकी दर्ज करने के बाद उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने जांच शुरू की. महाराष्ट्र एटीएस की कला चौकी इकाई अपने समकक्ष उत्तर प्रदेश एसटीएफ से प्राप्त सुराग के माध्यम से बाद में मामले की जांच करने लगी. Also Read - UP में BJP अध्‍यक्ष जेपी नड्डा ने किया डोर-टू-डोर प्रचार, अखिलेश यादव पर आतंकियों के केस हटाने के आरोप लगाए

पुलिस प्रवक्ता ने कहा कि डंप डेटा का उपयोग करके मोबाइल नंबर को ट्रैक किया गया था. धमकी के लिए उपयोग किए गए मोबाइल नंबर को बंद कर दिया गया था, लेकिन डंप डेटा से पता चला कि मुंबई के चूनाभट्टी इलाके में यह नंबर स्विच ऑफ किया गया है. Also Read - एयरपोर्ट अफसरों ने हेलीकॉप्‍टर की उड़ान में देरी की वजह बताई तो अखिलेश बोले- मुझे कैसे पता होगा कि क्या कारण था

आरोपी कामरान ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है. उत्तर प्रदेश एसटीएफ को उनकी गिरफ्तारी के बारे में बताया गया. उ.प्र एसटीएफ की टीम फिलहाल मुंबई में है. आरोपी को रविवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा. फिर उसे उत्तर प्रदेश एसटीएफ को सौंप दिया जाएगा. एसटीएफ उसकी ट्रांजिट रिमांड की मांगे करेंगी और उसे आगे की जांच के लिए उसे उत्तर प्रदेश लेकर आएगी.

कामरान मूल रूप से दक्षिण मुंबई के नल बाजार का निवासी है. उसकी इमारत में मरम्मत का काम चल रहा था, जिस कारण से वह चूनाभट्टी में स्थानांतरित हो गया था. एटीएस के अधिकारियों ने कहा कि आरोपी एक ड्रग एडिक्ट है. उसके पिता एक टैक्सी ड्राइवर थे, जिनकी दो महीने पहले मौत हो गई थी. परिवार में मां के अलावा उसका एक बड़ा भाई और एक बहन है.