UP, PM MODI, News, लखनऊ: प्रधानमंत्री (Prime Minister) नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने संसद की कार्यवाही में व्यवधान उत्पन्न (on disrupting the proceedings of Parliament) कर रहे विपक्ष (oppositions) पर हमला करते हुए गुरुवार को कहा कि कुछ लोग राजनीतिक स्वार्थ में डूब कर ऐसी चीजें कर रहे हैं जिनसे लगता है कि वे ‘सेल्फ गोल’ करने में जुटे हैं. पीएम मोदी ने ‘प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना’ (Pradhan Mantri Garib Kalyan Anna Yojana) के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए एक वृहद अभियान की शुरुआत करने के बाद अपने संबोधन में कहा, “एक तरफ हमारा देश जीत के गोल के बाद गोल कर रहा है, वहीं देश में कुछ लोग ऐसे भी हैं जो राजनीतिक स्वार्थ में डूब कर ऐसी चीजें कर रहे हैं कि लगता है वे सेल्फ गोल करने में जुटे हैं.”Also Read - Ayushman Bharat Digital Mission: जानिये क्या है डिजिटल हेल्थ कार्ड? पंजीकरण की प्रक्रिया और दस्तावेजों के बारे में

पीएम मोदी तल्ख टिप्पणी करते हुए कहा, “देश क्या चाहता है, देश क्या हासिल कर रहा है, देश कैसे बदल रहा है, इससे इनको कोई सरोकार नहीं. यह लोग अपने स्वार्थ के लिए देश का समय और देश की भावना दोनों को ही आहत करने में जुटे हैं. भारत की संसद का अपने स्वार्थ के लिए निरंतर अपमान कर रहे हैं. देश का हर नागरिक मानवता पर आए सबसे बड़े संकट से बाहर निकलने के लिए जी जान से जुटा है और यह लोग कैसे देशहित के काम को रोका जाए, इस स्पर्धा में लगे हैं.” Also Read - Special Crops: पीएम नरेंद्र मोदी का किसानों को बड़ा तोहफा, 35 नई फसलों की वैरायटी से बदलेगी किसानों की किस्मत

Also Read - UP News: मुख्यमंत्री योगी ने नवनियुक्त मंत्रियों को बांटे विभाग, जितिन प्रसाद बने प्राविधिक शिक्षा मंत्री; जानिए किसे क्या मिला

प्रधानमंत्री ने कहा “लेकिन इस देश की महान जनता ऐसी स्वार्थ और देशहित विरोधी राजनीति का बंधक नहीं बन सकती. यह लोग देश को देश के विकास को रोकने की कितनी भी कोशिश कर ले, यह देश इनसे रुकने वाला नहीं है. वह संसद को रोकने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन 130 करोड़ जनता देश को रुकने न देने में लगी हुई है.”

पीएम मोदी ने विपक्षी दलों पर आरोप लगाते हुए कहा कि कुछ लोगों ने उत्तर प्रदेश को हमेशा अपने परिवार वालों और राजनीतिक स्वार्थ के लिए इस्तेमाल किया है. इस राज्य को भारत की आर्थिक प्रगति से जोड़ा ही नहीं गया. कुछ परिवार जरूर आगे बढ़े. इन लोगों ने यूपी को नहीं बल्कि खुद को समृद्ध किया. मुझे खुशी है कि आज उत्तर प्रदेश ऐसे लोगों के कुचक्र से बाहर निकल कर आगे बढ़ रहा है.

इसके पूर्व, मोदी ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना की शुरुआत के मौके पर वाराणसी कुशीनगर झांसी सुल्तानपुर और सहारनपुर के निवासी कुछ लाभार्थियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत की. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मौके पर प्रधानमंत्री का स्वागत किया. आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक उत्तर प्रदेश में इस प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत 15 करोड़ लाभार्थियों को फायदा होगा. योजना के माध्यम से राज्य में लगभग 80000 फेयर प्राइस प्रतिष्ठानों पर अनाज का वितरण किया जा रहा है.

आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक हर जिला पूर्ति अधिकारी एवं जिला खाद्य विपणन अधिकारी का उत्तरदायित्व होगा कि वह सुनिश्चित करें कि प्रत्येक उचित दर दुकान पर खाद्यान्न की उपलब्धता डोर स्टेप डिलीवरी अथवा उचित दर विक्रेता द्वारा स्वयं उठान के माध्यम से हो जाए.