वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनके संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भाजपा के मंडल कार्यकर्ताओं से ‘नरेंद्र मोदी एप’ के जरिए वीडियो कॉन्फ़्रेसिंग से संवाद किया और काशी को सजाने संवारने के तरीके बताए. इस दौरान प्रधानमंत्री ने क्षेत्रीय कार्यालय गुलाब बाग, जिला कार्यालय कंचनपुर और महानगर कार्यालय नीचीबाग के कार्यकर्ताओं से वीडियो कांफ्रेंसिग के जरिए सीधा संवाद किया. Also Read - PM नरेंद्र मोदी ने संकट के समय लोगों से क्यों की रोशनी करने की अपील, शास्त्रों में है महत्व, रामायण में भी है ये बात

सोशल मीडिया का इस्तेमाल गंदगी फैलाने के लिए नहीं करने का लें संकल्प: पीएम मोदी Also Read - Coronavirus: PM मोदी ने सभी CM से VC के जरिए की मीटिंग, तबलीगी जमात पर भी चिंता

प्रधानमंत्री ने मंडल कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों से कहा कि 21 से 23 जनवरी तक बनारस में होने वाला प्रवासी भारतीय सम्मेलन भाजपा का नहीं, काशीवासियों का होना चाहिए. साथ ही उन्होंने शहर को सजाने संवारने के टिप्स दिए. मोदी से संवाद करने वाले रविदास मंडल अध्यक्ष दीपक राय के अनुसार उन्होंने इस दौरान कहा कि मुद्रा बैंकिंग से बहुत सारे लोगों को लाभ तो हुआ है लेकिन अब भी गरीब व्यवसायी सूदखोरों के चंगुल में फंसे हैं. Also Read - कोरोना वायरस के 'इलाज और टीके' के लिए पीएम मोदी ने की फ्रांस के राष्ट्रपति से बात

99.3 फीसदी पुराने नोट वापस लौटे, कांग्रेस बोली- ‘Modi Made Disaster’ थी नोटबंदी, माफी मांगें

इस पर प्रधानमंत्री ने कहा कि भाजपा के कार्यकर्ता ऐसे लोगों से संपर्क करें और उन्हें मुद्रा बैंक से जोड़ने का काम करें. प्रवासी भारतीय दिवस के आयोजन की तैयारी पर प्रधानमंत्री ने कहा कि शहर को साफ सुथरा करने का अभियान चलाया जाए. कैंट मंडल के महामंत्री मधुप सिंह ने प्रधानमंत्री से जानना चाहा कि भाजपा कार्यकर्ता किस तरह सरकार की उपलब्धियां जनता को बताएं. इस पर मोदी ने कहा कि जनता तक सरकार की उपलब्धियां पहुंचाने के लिए कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित किया जाए. कार्यकर्ता सरकार की योजनाओं को जनता तक पहुंचाने में कारगर कड़ी हैं. सरकार के कार्यक्रम तभी सफल होंगे जब कार्यकर्ता जनता के बीच रहकर अपने दायित्वों को सही ढंग से निभाएंगे.