लखनऊ: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश में कोविड-19 से निपटने के वास्ते राज्य सरकार द्वारा किए गए उपायों के लिए बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ की सराहना की. यह जानकारी जारी एक बयान में दी गई. Also Read - जल्द आने वाला है कोरोना का टीका! केंद्र ने राज्यों से कहा- सुचारु टीकाकरण के लिए समिति गठित करो

बयान के अनुसार प्रधानमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से मुख्यमंत्रियों के साथ अपनी बैठक के दौरान कोरोना वायरस से होने वाली मौतों को कम करने के लिए उचित उपाय करने के लिए आदित्यनाथ और उनकी टीम के प्रयासों की सराहना की. Also Read - योगी आदित्यनाथ का वादा, 'कोरोना खत्म होने पर हर गांव के व्यक्ति को कराएंगे अयोध्या में कारसेवा'

बयान में कहा गया है कि मोदी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक प्रतिदिन 1.50 लाख और अब तक कुल 90 लाख लोगों की जांच की गई है जो देश में सभी राज्यों में सर्वाधिक है. मोदी ने कहा कि राज्य को अधिक जांच करने संक्रमण से होने वाली मौतों की संख्या को ‘‘न्यूनतम’’ रखने में मदद मिली. Also Read - दिल्ली में बहाल होगी इंटरस्टेट बस सेवा, डीटीसी और क्लस्टर बसों में 20 सवारियों की लिमिट खत्म

प्रधानमंत्री ने प्रवासियों के संकट के उचित ढंग से निपटने के लिए भी योगी आदित्यनाथ की सराहना करते हुए कहा कि देश के सबसे बड़े आबादी वाले उत्तर प्रदेश जैसे बड़े राज्य में प्रवासियों की संख्या भी अधिक थी. आदित्यनाथ ने अपने संबोधन में मोदी को राज्य में कोरोना वायरस की स्थिति से अवगत कराया.

मोदी ने कहा कि कोरोना वायरस के मामले सामने आने के बाद देशव्यापी लॉकडाउन से बहुत फायदा हुआ और विश्व समुदाय ने भी इसकी सराहना की है. उन्होंने कहा, ‘‘अब हमें माइक्रो-कंटेनमेंट क्षेत्रों (छोटे-छोटे निषिद्ध क्षेत्रों) पर अपना ध्यान केंद्रित करना है ताकि कोरोना वायरस संक्रमण का प्रसार कम हो और जनजीवन सामान्य हो.