Hathras Gangrape Case: उत्तरप्रदेश के हाथरस के चंदपा गांव की एक दलित युवती के साथ हुई हैवानियत और दिल को दहला देनेवाले घटना और पुलिस की कार्यशैली पर लोगों का गुस्सा बढ़ता जा रहा है. इस गैंगरेप कांड पर अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद संज्ञान लिया है और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बात की है. पीएम मोदी ने कहा है कि इस घटना के आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई करें. Also Read - जय श्रीराम की हुंकार से बिहार में हुई योगी आदित्यनाथ की रैली की शुरुआत, विपक्ष पर बोला हमला

यूपी के सीएम योगी ने भी ट्वीट करके इस बात की जानकारी दी है कि पीएम नरेंद्र मोदी ने हाथरस की घटना पर वार्ता की है और कहा है कि दोषियों के विरुद्ध कठोरतम कार्रवाई की जाए. बता दें कि इस मामले की जांच के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने एसआईटी का गठन कर दिया है. Also Read - पीएम मोदी के पास नहीं है कार, सोने की चार अंगूठियां हैं, जानते हैं कितनी है उनकी सैलरी....

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हाथरस में बालिका के साथ घटित दुर्भाग्यपूर्ण घटना के दोषी कतई नहीं बचेंगे. प्रकरण की जांच हेतु विशेष जांच दल का गठन किया गया है. यह दल आगामी सात दिवस में अपनी रिपोर्ट देगा. त्वरित न्याय सुनिश्चित करने हेतु इस प्रकरण का मुकदमा फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलेगा. Also Read - बसपा प्रमुख मायावती ने कहा- रवैया बदले योगी सरकार, वरना...

वहीं, घटना के बाद आरोपों से घिरी हाथरस पुलिस ने अपनी सफाई दी है और अपने ट्वीट कर हाथरस पुलिस ने कहा कि यह असत्य खबर फैलायी जा रही है कि थाना चन्दपा क्षेत्रान्तर्गत दुर्भाग्यपूर्ण घटित घटना में मृतिका के शव का अन्तिम संस्कार बिना परिजनों की अनुमति के पुलिस ने जबरन रात में करा दिया. हम इसका खंडन करते हैं.

बता दें कि हाथरस के चंदपा गांव में एक 19 साल की दलित युवती के साथ चार युवकों ने हैवानियत की हद पार करते हुए दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया था. युवती की रीढ़ की हड्डी तोड़ डाली गई थी और साथ ही उसकी जीभ काट दी गई थी. युवती की दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में मौत हो गई थी.