नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर जिले में कथित गो हत्या की घटना को लेकर पिछले साल तीन दिसंबर को भड़की हिंसा के मुख्य आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक आरोपी योगेश राज को खुर्जा के आसपास से गिरफ्तार किया गया. पुलिस की ओर से दर्ज कराई गई रिपोर्ट में योगेश को आरोपी नंबर एक बनाया गया है. आरोप है कि योगेश राज ने हिंसक भीड़ की अगुआई की थी. पुलिस ने उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 147, 148, 149, 307, 302, 333, 353, 427, 436, 394 के तहत मामला दर्ज किया है. एफआईआर के मुताबिक योगेश राज पर अपने साथियों के साथ मिलकर भीड़ को भड़काने का आरोप है.

बुलंदशहर में तीन दिसंबर को भीड़ ने एक खेत में पशुओं के शव मिलने के बाद पुलिस चौकी फूंक दी थी और पुलिसकर्मियों पर हमला किया था. इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह और 20 वर्षीय सुमित कुमार की हमले में गोली लगने से मौत हो गई थी. इंस्पेक्टर सिंह ने दादरी में 2015 में मोहम्मद अखलाक की पीट पीटकर हत्या मामले की शुरुआत में जांच की थी.

हिंसा में नाम आने के बाद योगेश ने वीडियो जारी कर खुद को बेगुनाह बताया था. वीडियो में योगेश राज ने कहा था कि उसने महाव गांव में ‘गोकशी’ के बारे में सुना तो वह अपने समर्थकों के साथ गया. कथित वीडियो में योगेश ने दावा किया था कि जब वे लोग शिकायत दर्ज करा रहे थे, उसी समय उन्हें पथराव और गोलीबारी होने की खबर मिली.

हिंसा के दौरान पुलिस निरीक्षक सुबोध कुमार सिंह पर कुल्हाड़ी से हमला करने के आरोप में पुलिस ने हाल ही में एक शख्स को गिरफ्तार किया था. पुलिस के एक अधिकारी ने मंगलवार को बताया कि आरोपी कलुआ को सोमवार रात एक बस स्टैंड से गिरफ्तार किया गया. कलुआ ने पुलिस को बताया कि तीन दिसंबर को वह सड़क को अवरूद्ध करने के लिए पेड़ गिरा रहा था लेकिन पुलिस निरीक्षक ने उसे ऐसा करने से रोका तो उसने अधिकारी पर कुल्हाड़ी से हमला कर दिया. पुलिस ने 27 दिसंबर को प्रशांत नट को गिरफ्तार किया था. उसने कुल्हाड़ी से हमले के बाद सुबोध कुमार सिंह की कथित रूप से गोली मारकर हत्या कर दी थी.

जिले के महवा गांव के पास एक खेत में गाय का शव मिलने के बाद हिंसा भड़क गई थी. हिंसा में निरीक्षक और एक युवक की मौत हो गई थी. चिंग्रावती पुलिस चौकी पर हिंसा के बाबत स्याना थाने में 27 नामजद और 50-60 अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई थी. प्राथमिकी में नामजद एक मुख्य संदिग्ध बजरंग दल का स्थानीय नेता योगेश राज है. पुलिस ने उसे भी गिरफ्तार कर लिया है.