बांदा: उत्तर प्रदेश में बांदा जिला मुख्यालय के अधिवक्ताओं का एक समूह बुधवार को पुलिस अधीक्षक से भेंट कर उच्च न्यायालय के अधिवक्ता पुष्पेंद्र सिंह के साथ कथित मारपीट व छीना-झपटी करने वाले भूरागढ़ पुलिस चौकी के प्रभारी उपनिरीक्षक (एसआई) को निलंबित करने की मांग की. Also Read - UP: कूड़ा फेंकने के विवाद में चचेरे भाइयों ने आधी रात को सिपाही, मां और बहन की हत्‍या कर दी

अधिवक्ताओं के समूह के अगुआ राममिलन सिंह ने बताया कि ‘बीते 19 अक्टूबर को बाईपास पुल से मोटरसाइकिल से गुजर रहे उच्च न्यायालय (इलाहाबाद) के अधिवक्ता पुष्पेन्द्र सिंह के साथ भूरागढ़ चौकी के प्रभारी उपनिरीक्षक गौरव तिवारी और एक सिपाही ने अकारण मारपीट की थी और उनका बैग व सामान छीन लिया था. Also Read - चचेरी बहन के साथ लिव-इन में रह रहा युवक करना चाहता है शादी, हाईकोर्ट ने याचिका पर दिया ये निर्देश

इस संबंध में पीड़ित अधिवक्ता ने पहले ही पुलिस अधीक्षक से शिकायत की थी, लेकिन अभी तक आरोपी एसआई के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई है.’ उन्होंने बताया कि ‘बुधवार को दो दर्जन से ज्यादा अधिवक्ताओं के एक समूह ने पुलिस अधीक्षक एस. आनंद से मिलकर निलंबन की मांग उठाई है. मांग न माने जाने पर अधिवक्ता अपनी अगली रणनीति बनाएंगे.’ इस मामले में सीओ सिटी राघवेन्द्र सिंह ने एसपी की ओर से बताया कि ‘मामले की जांच शुरू है. जांच रपट में जो भी तथ्य आएंगे, उसके आधार पर अग्रिम कार्रवाई की जाएगी.’ Also Read - दिल्ली में कोरोना से बुरा हाल: मृतकों से भरे श्मशान, रात भर जलती हैं चिताएं, स्थिति डराने वाली