वाराणसी: उत्तर प्रदेश की घोसी लोकसभा सीट से बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के नवनिर्वाचित सांसद अतुल राय के अदालत में हाजिर ना होने पर उनके घर पर कुर्की के नोटिस चस्पा किया गया है. उन पर एक पूर्व छात्रा की शिकायत पर वाराणसी के लंका थाने में दुष्कर्म का मामला दर्ज गया है.

अपनी सहपाठी के साथ ही दुष्कर्म के आरोप में फरार अतुल राय ने सर्वोच्च न्यायालय से अग्रिम जमानत लेने का प्रयास किया था. फरारी काटने के दौरान ही लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सांसद को शिकस्त देने वाले अतुल राय समर्पण करने के प्रयास में हैं, लेकिन उनकी तलाश में लगी पुलिस ने वाराणसी में उनके आवास पर कुर्की का नोटिस चस्पा कर दिया है. लोकसभा चुनाव के दौरान ही अतुल राय पर दुष्कर्म का आरोप लगा था, जिसके बाद से वे फरार चल रहे हैं. उन्होंने उच्च न्यायालय से लेकर सर्वोच्च न्यायालय तक अग्रिम जमानत की अर्जी लगाई थी, लेकिन उन्हें कहीं भी राहत नहीं मिली.

घोसी सीट से सपा-बसपा उम्मीदवार अतुल राय को झटका, सुप्रीम कोर्ट ने कहा- चुनाव लड़िये और मुकदमा भी

सांसद अतुल राय को खोजने में पुलिस की सभी टीमें नाकाम
इसके बाद उन्होंने अदालत में समर्पण की बात कही थी, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया, जिसके बाद पुलिस ने कुर्की का आदेश जारी किया है. घोसी से सांसद अतुल राय को खोजने में पुलिस की सभी टीमें नाकाम साबित हो चुकी हैं. अपराध शाखा का सर्विलांस सेल भी उनका पता लगाने में असफल रहा. आत्मसमर्पण की अर्जी और गिरफ्तारी पर रोक की याचिका खारिज होने से सांसद के सामने जेल जाने के अलावा कोई रास्ता नहीं बचा है लेकिन वह पुलिस से भागते फिर रहे हैं.

बसपा सांसद पर ये है आरोप
अतुल कुमार राय पर बलिया की एक युवती ने बनारस के लंका थाने में दुष्कर्म, धोखाधड़ी और धमकी देने समेत कई धाराओं मामला दर्ज कराया है. दर्ज मामले के मुताबिक, अतुल राय युवती को लंका स्थित एक अपार्टमेंट के फ्लैट में झांसा देकर ले गए और उनका यौन शोषण किया. युवती ने उन पर यह आरोप भी लगाया है कि बसपा नेता दुष्कर्म के बाद उस पर मुंह बंद रखने का दबाव बनाते रहे हैं. दुष्कर्म का आरोप लगने के बाद भी लोकसभा चुनाव में बसपा के अतुल राय ने भाजपा के सांसद हरिनारायण राजभर को 1,22,018 हजार मतों से हराया था.