लखनऊ: देवरिया की जिला जेल में पुलिस अधिकारियों ने छापा मारा और जेल परिसर से सिम कार्ड और चाकू समेत कई आपत्तिजनक वस्तुओं को बरामद किया. उसकी जांच की जा रही है. इस जेल में पूर्व सांसद अतीक अहमद बंद है.Also Read - UP के छात्रों को अगले महीने से मिलना शुरू होंगे फ्री स्मार्टफोन और टैबलेट, योगी सरकार देने जा रही बड़ी सौगात

Also Read - Omicron के खतरे के बीच यूपी सरकार ने जारी किया विदेशी और घरेलू हवाई यात्र‍ियों के लिए प्रोटोकॉल

गैंगस्टर मुन्‍ना बजरंगी के सिर में मारी 10 गोलियां, जानिए प्रेम प्रकाश से कैसे बना डॉन Also Read - 11 करोड़ की लागत से रामगंगा नदी पर बना 2 किमी लंबा पुल धराशायी हो दो टुकड़ों में बंट गया

जानकारी के मुताबिक, देवरिया के जिलाधिकारी सुजीत कुमार, पुलिस अधीक्षक और तीन सौ से अधिक पुलिसकर्मियों ने देवरिया जेल में छापा मारा. छापे के दौरान जिला पुलिस के सभी क्षेत्राधिकारी एवं अन्य प्रशासनिक अधिकारी मौजूद थे. पुलिस अधीक्षक देवरिया रोहन पी कनय ने बताया कि तीन घंटे में जेल की हर बैरक में तलाशी ली गयी जिसमें सांसद अतीक अहमद की बैरक भी शामिल थी. अहमद की बैरक में चार पेन ड्राइव बरामद हुए है.

प्लांड मर्डर की ओर इशारा कर रही पूर्वांचल के माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट

डीएम ने भेजी रिपोर्ट

जिला जेल में छापामारी के दौरान प्रत्येक बैरक के साथ ही जेल का कोना-कोना खंगाला गया. इस दौरान जेल की एक अन्य बैरक में भी एक मोबाइल फोन और चार सिम मिले. इसके अलावा जेल परिसर से चार चाकू, एक मोबाइल चार्जर और कैंची भी बरामद हुई. जिला जेल में मोबाइल और चाकू मिलने से जिला प्रशासन हलकान है. डीएम सुजीत कुमार ने बताया कि छापेमारी में मिले सामानों की रिपोर्ट आलाधिकारियों को भेजी है. जेल से मोबाइल और चाकू मिलना गंभीर मामला है. जेल अधीक्षक को निर्देश दिया गया है कि वे केस दर्ज कराएं.