लखनऊ: सपा से अलग होकर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) बनाने वाले शिवपाल सिंह यादव ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने आने वाले लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस से गठबंधन की बात कही है. शिवपाल का कहना है कि अगर कांग्रसे हमसे संपर्क करेगी तो मैं गठबंधन के लिए तैयार हूं. शिवपाल सिंह यादव के भतीजे व सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बहुजन समाज पार्टी से गठबंधन किया है. ये दोनों पार्टियां यूपी में 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ेंगी. दो सीटें कांग्रेस के लिए छोड़ी गई हैं. वहीं, कांग्रेस ने आज सभी 80 सीटों पर अकेले ही चुनाव लड़ने का एलान किया है.

यूपी: गठबंधन में नहीं मिली जगह, लोकसभा की 80 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी कांग्रेस

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) शिवपाल सिंह यादव ने गठबंधन को लेकर कहा कि वह कांग्रेस के साथ जा सकते हैं. उन्होंने कहा कि अभी हमारी बात नहीं हुई, लेकिन जितने भी सेक्युलर दल हैं, कांग्रेस भी है. अगर कांग्रेस हमसे संपर्क करेगी. हमसे बात करेगी तो मैं बिल्कुल तैयार हूं. कांग्रेस के साथ चुनाव लड़ने को तैयार हूं.

वो खतरनाक दिन, जिसे सपा से दोस्ती के बाद भी नहीं भूलीं मायावती, आज फिर बार-बार किया ज़िक्र

बता दें कि एक दिन पहले ही शिवपाल सिंह यादव के भतीजे अखिलेश यादव ने मायावती से गठबंधन का एलान किया है. यूपी की राजनीति के लिए इसे बड़ा कदम माना जा रहा है. इससे पहले शिवपाल ने कहा था कि गठबंधन उनके बिना अधूरा है. वह गठबंधन में शामिल होने को तैयार हूं. अब उन्होंने गठबंधन से अलग कांग्रेस से जुड़ने की बात कही है. राहुल गाँधी ने आज ही सभी 80 सीटों पर चुनाव लड़ने का एलान किया है. कांग्रेस का यह भी कहना था कि वह यूपी में छोटे छोटे दलों के साथ गठबंधन कर सकती है. कांग्रेस को कमजोर आंकने की गलती नहीं की जाए. कांग्रेस लोकसभा चुनाव में बढ़िया प्रदर्शन करेगी. उत्तर प्रदेश की सियासत में इस समय बड़े बदलाव देखे जा रहे हैं.