चित्रकूट (उत्तर प्रदेश): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को पीएम-किसान के सभी लाभार्थियों को किसान क्रेडिट कार्ड की सुविधा से लैस करने की दिशा में सरकार द्वारा चलाई गई मुहिम का जिक्र करते हुए कहा कि छोटे किसानों को अब कर्ज के लिए साहूकारों पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा. उन्होंने यहां एक कार्यक्रम के दौरान किसानों को संबोधित करते हुए कहा, “बैंक से सस्ता और आसान कर्ज मिलने से आपको अब कर्ज के लिए इधर-उधर कहीं जाने की जरूरत नहीं होगी.” Also Read - देश में कोरोना संकट को लेकर पीएम मोदी ने की समीक्षा बैठक, राज्यों को दिए कई दिशानिर्देश

मोदी सरकार की अति महत्वाकांक्षी व किसान हितैषी योजना प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम-किसान) की पहली वर्षगांठ पर यहां आयोजित समारोह में प्रधानमंत्री ने यहां पीएम-किसान के कुछ लाभार्थियों को सांकेतिक तौर पर किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) भी बांटे. इस मौके पर देशभर में बैंकों की 28,000 शाखाओं में किसानों को केसीसी बांटने का विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया था. Also Read - अब स्कूटी वाली महिला ने पुलिस से की बदसलूकी, पीएम मोदी और नीतीश कुमार के खिलाफ अभद्र भाषा का किया इस्तेमाल

पीएम-किसान योजना के तहत लाभार्थी को सालाना मिलने वाली 6,000 रुपये की राशि तीन समान किस्तों में दिया जाता है, जिसका लाभ देश के करीब 8.52 करोड़ किसानों को मिलने लगा है. Also Read - पीएम मोदी ने ब्रिटिश प्रधानमंत्री के साथ की शिखर बैठक; एक अरब पौंड के व्यापार और निवेश की हुई घोषणा

प्रधानमंत्री ने कहा, “पीएम-किसान के सभी लाभार्थियों को केसीसी की सुविधा देने की कोशिश जारी है. अभी करीब पौने दो करोड़ लाभार्थी इससे वंचित है. इस अंतर को भरने के लिए 15 दिनों का एक विशेष अभियान चलाया गया और 40 लाख से अधिक किसानों को केसीसी से जोड़ा गया.”

(इनपुट आईएएनएस)