गोरखपुर: समाजवादी पार्टी और निषाद पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पेट्रोल डीजल की कीमतों में बढ़ोत्तरी के विरोध में मंगलवार को पादरी बाजार चौराहे पर प्रदर्शन किया. प्रदर्शन का नेतृत्व गोरखपुर के सांसद प्रवीण निषाद ने किया. बैनर पोस्टर लिये कार्यकर्ताओं ने सरकार, सरकार की नीतियों और पेट्रोल डीजल की कीमतों में बढ़ोत्तरी के खिलाफ नारेबाजी की. गोरखपुर उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ का गृहनगर है. Also Read - नई दिल्ली में मंदिर हटाने पर मचा हंगामा, केजरीवाल सरकार के खिलाफ धरने पर बैठे लोग

Also Read - Gorakhpur Zoo will Reopen: जनवरी से फिर से खुल जाएगा गोरखपुर का चिड़ियाघर, पर्यावरण मंत्री ने दी जानकारी

महंगाई की मार: डीजल पहली बार 70 रुपये प्रति लीटर के पार, एलपीजी सिलेंडर भी 1.49 रुपये महंगा हुआ Also Read - Diesel-Petrol Rate Hike: 2 साल में पहली बार इतना महंगा हुआ पेट्रोल-डीज़ल, 17 दिन में 14 बार बढ़े दाम, उच्च स्तर पर कीमतें

निषाद ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि चार साल हो गये हैं और लगता है कि सरकार आम आदमी की समस्याओं को लेकर जरा भी गंभीर नहीं है. हर समय पेट्रोल डीजल के दाम बढ जाते हैं. प्रदर्शनकारियों ने ये मांग भी की कि पेट्रोल डीजल को जीएसटी के दायरे में लाया जाना चाहिए.

अभी कम नहीं होंगी पेट्रोल-डीजल की कीमतें, त्योहारों के सीजन में और बढ़ेगी महंगाई

बता दें कि पेट्रोल डीज़ल के दाम लगातार बढ़ रहे हैं. अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये में लगातार गिरावट आने के साथ डीजल का दाम पहली बार 70 रुपये प्रति लीटर से ऊपर पहुंच गया. पेट्रोल 78 रुपए से ऊपर है. इसके साथ ही घरेलू एलपीजी सिलेंडर का दाम भी 1.49 रुपये प्रति सिलेंडर बढ़ गया. सब्सिडीयुक्त रसोई गैस सिलेंडर का दाम शनिवार मध्यरात्रि से दिल्ली में 1.49 रुपये बढ़कर 499.51 रुपए प्रति सिलेंडर हो जायेगा. यह वृद्धि मुख्य तौर पर आधारभूत मूल्य पर कर बढ़ने की वजह से हुई है.